बलात्कारी गुरमीत राम रहीम के खिलाफ इंसाफ की जंग लड़ने वालों को पर्दाफाश का सलाम

ram-rahim

Gurmeet Ram Rahim Singh Dera Sacha Sauda

नई दिल्ली। सच परेशान हो सकता है लेकिन हार नहीं सकता। ये बात आज हरियाणा के पंचकुला की सीबीआई विशेष अदालत में सच साबित हो गई। जहां एक ओर बाबा गुरुमीत राम रहीम जैसे करोड़ों समर्थकों की ताकत रखने वाले धर्मगुरू को अदालत ने शारीरिक शोषण के मामले में दोषी करार दे दिया।

अदालत का फैसला आने के बाद हरियाणा, पंजाब, दिल्ली और यूपी के कुछ हिस्सों में हुई हिंसक झड़पों ने साबित कर दिया कि अपराधी बाबा के पास हिंसक लोगों की एक पूरी फौज थी। इसके बावजूद उसे सच की ताकत के आगे हारना पड़ा। लेकिन बाबा के खिलाफ लड़ी गई इंसाफ की 15 साल लंबी जंग में अपने धैर्य को बिना खोए मैदान में डंटे रहे उन तमाम लोगों के जज्बे को टीम पर्दाफाश सलाम करती है, नमन करती है, जिन्होंने न्याय व्यवस्था पर अपने विश्वास को टूटने नहीं दिया।

टीम पर्दाफाश उस साध्वी को सलाम करती है जिन्होने गुरुप्रीत की सच्चाई को समाज के सामने लाने की हिम्मत दिखाई। हम उस पत्रकार को भी सलाम करते हैं जिसने अपनी जान पर खेलकर बाबा के खिलाफ अपनी कलम को तलवार की तरह प्रयोग किया। हम उन वकीलों, जांच अधिकारियों और जजों को भी सलाम करते हैं जिन्होंने अपने पेशे और कर्तव्य के साथ पूरी ईमानदारी बरती।

हमारा उद्देश्य किसी डेरा सच्चा सौदा के समर्थक की भावनाओं को आहत करना नहीं है। हम सिर्फ उस जज्बे का समर्थन करना चाहते है जो हमारे देश की आत्मा यानी लोकतंत्र में विश्वास रखने की प्रेरणा देता है।

 

मुनेन्द्र शर्मा

नई दिल्ली। सच परेशान हो सकता है लेकिन हार नहीं सकता। ये बात आज हरियाणा के पंचकुला की सीबीआई विशेष अदालत में सच साबित हो गई। जहां एक ओर बाबा गुरुमीत राम रहीम जैसे करोड़ों समर्थकों की ताकत रखने वाले धर्मगुरू को अदालत ने शारीरिक शोषण के मामले में दोषी करार दे दिया। अदालत का फैसला आने के बाद हरियाणा, पंजाब, दिल्ली और यूपी के कुछ हिस्सों में हुई हिंसक झड़पों ने साबित कर दिया कि अपराधी बाबा के पास…