बलात्कारी बाबा से जेल में मिलेगी ‘पापा की परी’, ब्रेकफ़ास्ट में मिल रहे समोसे-चाउमीन

रोहतक। यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद बलात्कारी गुरमीत राम-रहीम से बुधवार को पापा की परी यानि उनकी गोद ली गयी बेटी हनीप्रीत मिलाई करने जा सकती है। इसके मद्देनजर जेल प्रशासन ने कड़े इंतेजाम कर रखे हैं। गुरमीत को ब्रेकफ़ास्ट में चाउमीन, समोसे और ब्रेड पकौड़े दिये जा रहे हैं। जिस जेल में गुरमीत कैद हैं, वहां एक कैंटीन भी है जिसमें ब्रेकफ़ास्ट के लिये फास्ट फूड तैयार किये जाते हैं।

प्रशासन की ओर से सिर्फ गुरमीत के परिजनों को ही राम रहीम से मिलवाया जाएगा। इसके लिए व्यवस्था की जा रही है। वहीं खबर है कि गुरमीत से मिलाई करने के परिजनों में हनीप्रीत व गुरमीत की मां नसीब कौर शामिल हो सकते हैं।

जेल में साथ रखना चाहता था हनीप्रीत को-

बता दें कि जेल जाने के बाद भी बलात्कारी राम रहीम अपनी गोद ली गई बेटी हनीप्रीत को साथ रखने की मांग कर रहा था। हालांकि अधिकारियों ने उसकी मांग को ठुकरा दिया था। उसे साथ रखे जाने के पीछे राम रहीम ने कमर दर्द का हवाला दिया था, उसका कहना था कि हनीप्रीत एक्यूप्रेशर की एक्सपर्ट है।
गिरफ्तारी के बाद भी हनीप्रीत उसके साथ थी। वह हेलिकॉप्टर में बैठकर उसके साथ रोहतक जेल गई थी। वहां करीब दो घंटे वह राम रहीम के साथ जेल के पास बने गेस्ट हाउस में भी रही थी।
जेल में सुविधाओं के नाम पर कैदियों के लिए एक कैंटीन भी बनाई गई है। इसे साल 2014 में शुरू किया गया था। कैंटीन में अधिकतर कैदी ही काम करते हैं। यहां पर मिठाई, ब्रेड पकौड़ा, गोल गप्पे, चाऊमीन, दही भल्ले व समोसे की व्यवस्था की गई है।
कैंटीन को छह सदस्यीय कमेटी मिलकर चलाती है। जिनमें सह सचिव के पद पर एक कैदी और सदस्यों में तीन कैदी इस कमेटी में शामिल किए गए हैं। इस कमेटी के चेयरमैन स्वयं जेल अधीक्षक होते हैं।

{ यह भी पढ़ें:- जेल में सब्जियां उगा रहा 'बलात्कारी बाबा', 20 रुपये मिलती है दिहाड़ी }

{ यह भी पढ़ें:- वायरल हो रहा हनीप्रीत का न्यूड वीडियो, जानिये क्या है सच }