पुणे: सर्वर हैक कर कॉसमॉस बैंक के खातों से चुराए 94 करोड़ रुपए

पुणे: सर्वर हैक कर कॉसमॉस बैंक के खातों से चुराए 94 करोड़ रुपए
पुणे: सर्वर हैक कर कॉसमॉस बैंक के खातों से चुराए 94 करोड़ रुपए

Hackers Loot Rs 94 Crore From Cosmos Bank In Pune

मुंबई। कॉसमॉस बैंक के पुणे स्थित मुख्यालय का सर्वर हैक कर कथित तौर पर 94 करोड़ रुपए देश से बाहर ट्रांसफर करने का मामला सामने आया है। सूत्रों के मुताबिक हैकरों ने हांगकांग और भारत में इस चोरी को अंजाम दिया। एफआईआर के मुताबिक, इस मामले में हॉन्गकॉन्ग की एक कंपनी और एक अज्ञात व्यक्ति को आरोपी बनाया गया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, हैकर्स ने पहले 11 अगस्त की दोपहर 3 बजे से रात 10 बजे तक बैंक के सर्वर में सेंध लगाकर करीब 15 हजार ट्रांजैक्शन के जरिये 78 करोड़ रुपये चुराए। इसमें एक बार उन्होंने नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एनसीपीआई) और वीजा के जरिये ढाई करोड़ रुपये का ट्रांजैक्शन भी किया।

इसके बाद भी जब उनकी चोरी पकड़ी नहीं गई तो हैकर्स की हिम्मत बढ़ गई और उन्होंने 13 अगस्त को एक बार फिर सर्वर में संध लगाते हुए स्विफ्ट ट्रांजैक्शन के जरिये हैंगसैंग बैंक में एएलएम ट्रडिंग लिमिटेड के खाते में 14 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए। बैंक की शिकायत पर पुलिस ने इस संबंध में अज्ञात हैकर्स और एएलएम ट्रेडिंग लिमिटेड और हैंगसैंग बैंक के खिलाफ केस दर्ज किया है।

स्विफ्ट के जरिए इस तरह होता है ट्रांजैक्शन

एक कर्मचारी मैसेज जारी करता है। दूसरा कर्मचारी उसे अधिकृत (ऑथेंटिकेट) करता है। तीसरा मैसेज को वेरीफाई करता है। एक चौथा इम्पलॉई LoU भेजे जाने के बाद लेन-देन से जुड़ा प्रिंट आउट रिसीव करता है। हैकर्स ने पूरी प्रक्रिया को हैक कर इसका इस्तेमाल रकम भेजने में किया।

मुंबई। कॉसमॉस बैंक के पुणे स्थित मुख्यालय का सर्वर हैक कर कथित तौर पर 94 करोड़ रुपए देश से बाहर ट्रांसफर करने का मामला सामने आया है। सूत्रों के मुताबिक हैकरों ने हांगकांग और भारत में इस चोरी को अंजाम दिया। एफआईआर के मुताबिक, इस मामले में हॉन्गकॉन्ग की एक कंपनी और एक अज्ञात व्यक्ति को आरोपी बनाया गया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, हैकर्स ने पहले 11 अगस्त की दोपहर 3 बजे से रात 10 बजे तक बैंक के…