1. हिन्दी समाचार
  2. जापान में ‘हेगीबिस’ तूफान का कहर जारी: 35 की मौत,16 लापता, मदद के लिए पहुंची भारतीय नौसेना

जापान में ‘हेगीबिस’ तूफान का कहर जारी: 35 की मौत,16 लापता, मदद के लिए पहुंची भारतीय नौसेना

By बलराम सिंह 
Updated Date

Hagibis Storm Continues To Wreak Havoc In Japan 35 Dead 16 Missing Indian Navy Rushed To Help

नई दिल्ली। जापान की राजधानी टोक्यो समेत देश के कई हिस्सों में तबाही मचाने वाले तूफान ‘हेगीबिस’ से अब तक 35 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं। वहीं 16 लोग अभी भी लापता हैं। भारी बारिश और बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए रविवार को बड़े पैमाने पर राहत अभियान शुरू किया गया है। जापान की मदद के लिए भारतीय नौसेना ने जापान की मदद के लिए दो युद्धपोत भेजे हैं। आईएनएस शहयाद्री और आईएनएस किल्तान भारी बारिश और बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सहायता पहुंचाएंगे।

पढ़ें :- कोरोना संकट के बीच दिल्ली में फिर बढ़ सकता है लॉकडाउन, ​सीएम केजरीवाल आज ले सकते हैं फैसला

आपको बता दें कि तूफान हेगीबिस ने दक्षिण-पश्चिम में इजु प्रायद्वीप पर शनिवार दस्तक दी थी। तूफान से देश के बड़े हिस्से में भारी बारिश हुई, जिससे बाढ़ और भूस्खलन की कई घटनाएं हुईं। यह तूफान टोक्यो को अपनी चपेट में लेने के बाद उत्तर की ओर बढ़ गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, इस आंधी-तूफान में कम से कम 35 लोगों की मौत हुई है। 16 लोग लापता हैं और 100 से अधिक घायल हुए हैं। हेगीबिस से प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है।

सरकार का कहना है कि राहत कार्य के लिए 31 हजार सैनिक और एक लाख बचावकर्मी दिन रात लगे हुए हैं। तूफान में फंसे लोगों को हेलीकॉप्टर से सुरक्षित स्थानों पर भेजा जा रहा है। नागानो शहर के आपातकालीन सेवा के एक अधिकारी यासुहिरो यामागुची ने बताया कि रातभर में हमने 427 घरों को खाली कराने और 1,417 लोगों को निकलने के आदेश जारी किए।

उन्होंने बताया कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इसमें कितने घर प्रभावित हुए हैं। अधिकारियों ने चेतावनी दी कि भूस्खलन का खतरा अभी भी बना हुआ है। प्रशासन ने 73 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित जगह पर जाने की सलाह दी है।

तूफान ने मचाई भारी तबाही

हेगीबिस तूफान से प्रभावित इलाकों में तकरीबन 376,000 घरों की बिजली आपूर्ति नहीं हो पा रही है। इसके साथ ही रग्बी विश्व कप के दो मैचों को भी रद्द कर दिया गया है। ?तूफान की वजह से जापानी ग्रैंड प्रिक्स में देरी हुई तथा भारी बारिश के कारण 800 से अधिक उड़ानें रद्द कर दी गई हैं। जेएमए के मौसम विभाग के अधिकारी यासूशी काजीवारा ने मीडिया को बताया कि शहरों, कस्बों और गांवों में अभूतपूर्व मूसलाधार बारिश हो रही है, जिसके कारण चेतावनी जारी की गई है। तोशिगी प्रांत के सानो में अकियामा नदी में बाढ़ आने से रिहायशी क्षेत्र जलमग्न हो गए और बचाव दल स्थानीय लोगों को वहां से निकाल रहे हैं।

पढ़ें :- कोविड-19 की लड़ाई में चेन्नई सुपर किंग्स ने बढ़ाया हाथ, तमिलनाडु में भेजा 450 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X