1. हिन्दी समाचार
  2. अवैध खनन: IAS बी. चन्द्रकला से ED की टीम ने की पूछताछ

अवैध खनन: IAS बी. चन्द्रकला से ED की टीम ने की पूछताछ

Hamirpur Cbi Begins Questioning Suspected Mining Suspects In Hamirpur District

By रवि तिवारी 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अवैध खनन के आरोप में फंसी चर्चित आईएएस अधिकारी बी. चंद्रकला (B Chandrakala) से प्रवर्तन निदेशालय (ED) की टीम पूछताछ कर रही है। उन पर नियमों का उल्लंघन कर ठेका देने का आरोप है। इसके पहले सीबीआई की टीम उनके नोएडा स्थित घर की तलाशी भी ले चुकी है। इससे पहले बी चंद्रकला ईडी के सामने पेश नहीं हुई थीं, और उन्होंने अपने वकील को दस्तावेजों के साथ ईडी दफ्तर भेजा था। हालांकि, इन दस्तावेजों से ईडी संतुष्ट नहीं था।

पढ़ें :- महिलाओं को ये काम करते कभी ना देखें वरना हो सकती है बड़ी भूल

हमीरपुर जिले से जुड़े इस अवैध खनन केस में केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने 11 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी, जिसमें आईएएस चंद्रकला का नाम भी है। उन पर हमीरपुर डीएम रहते हुए नियमों के खिलाफ जाकर खनन टेंडर जारी करने का आरोप है।

सीबीआई ने एफआईआर दर्ज कर कई ठिकानों पर छापेमारी की थी। चंद्रकला के घर पर भी रेड की गई थी। इसके बाद प्रवर्तन निदेशालय ने इस पूरी प्रक्रिया में पैसों के लेन-देन का पता लगाने के लिए मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है, जिसके बाद आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने के बाद से ही योगी सरकार ने अवैध खनन करने वाले खनन माफियाओं पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। उत्तर प्रदेश के खनन माफियाओं ने यूपी से लगी छह राज्यों की सीमा और नेपाल से लगी सीमाक्षेत्र पर अवैध खनन का कारोबार फैला हुआ है।

जुलाई 2016 में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पूरे प्रदेश में अवैध खनन का धंधा बंद करने और अवैध खनन में सक्रिय माफियाओं को कानूनी तौर पर सामने लाने के लिए सीबीआई जांच करने का आदेश जारी किया था। बुंदेलखंड से लेकर सोनभद्र तक और गौतम बुद्ध नगर से लेकर बलिया से देवरिया तक नदियों के किनारे खोद डाले गए। हमीरपुर से लेकर जालौन तक के जिलों में बड़े पैमाने पर अवैध खनन किया जाता है।

पढ़ें :- पैर भी बताते हैं कितने भाग्यशाली हैं आप, जानिए क्या है समुद्रशास्त्र

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...