1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Happy Birthday Anna: इस घटना के कारण अन्ना हजारे और केजरीवाल हो गए अलग, वजह उड़ा देगी होश

Happy Birthday Anna: इस घटना के कारण अन्ना हजारे और केजरीवाल हो गए अलग, वजह उड़ा देगी होश

अन्ना अरविंद केजरीवाल से इसलिए नाराज थे कि उनके अंदर राजनीतिक महत्वाकांशाए उभार मारने लगी थी। जबकि अन्ना आंदोलन को राजनीति से दूर रखना चाह रहे थे। हां से बात बहुत हद तक सही हैं कि अन्ना अरविंद केजरीवाल से इसलिए भी नाराज थे कि वे उनकी लाइन से हटकर आंदोलन को राजनीति की ओर मोड़ रहे थे। 

By आराधना शर्मा 
Updated Date

नई दिल्ली: अन्ना हजारे भारत का एक जाना पहचाना नाम है। इंडियन आर्मी में अपनी सेवाएं देने वाले एवं सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे आज अपना 84वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म आज ही के दिन 1937 को महाराष्ट्र के रालेगण सिद्दी हुआ था। महाराष्ट्र के एक गरीब मराठा परिवार में जन्में अन्ना को भले ही भारत सरकार ने पद्मविभूषण से सम्मानित किया हो, किन्तु सत्ता की राजनीति में आने के हर ऑफर को इस समाजसेवी ने कभी स्वीकार नहीं किया।

पढ़ें :- मीडिया दफ्तरों पर आईटी का छापा तुरंत बंद हो, इनको स्वतंत्र रूप से काम करने दे सरकार : केजरीवाल
Jai Ho India App Panchang

आपको आज हम उनके जीवन का एक ऐसा किस्सा सुनाने जा रहें हैं जिसे शायद ही आपने सुना होगा या इस किस्से के बारे में बहुत कम लोग जानते होंगे। ये बात बहुत कम लोगों को मालूम है कि अन्ना हजारे और अरविंद केजरीवाल क्यों अलग हुए। लोग अक्सर ये ही सोचतें हैं कि अन्ना हजारे और अरविंद केजरीवाल में आंदोलन के तरीकों को लेकर मतविभेद था।

अन्ना अरविंद केजरीवाल से इसलिए नाराज थे कि उनके अंदर राजनीतिक महत्वाकांशाए उभार मारने लगी थी। जबकि अन्ना आंदोलन को राजनीति से दूर रखना चाह रहे थे। हां से बात बहुत हद तक सही हैं कि अन्ना अरविंद केजरीवाल से इसलिए भी नाराज थे कि वे उनकी लाइन से हटकर आंदोलन को राजनीति की ओर मोड़ रहे थे। लेकिन इन सब से अलग अन्ना की अरविंद केजरीवाल से नाराजगी की सबसे बड़ी बजह जो थी वह थी पैसे को लेकर।

दें पैसे की पाई पाई का हिसाब 

अन्ना हजारे चाहते थे कि अरविंद केजरीवाल आंदोलन में आए पैसे का पाई पाई का हिसाब जन आंदोलन से जुड़े लोगों के सामने ही नहीं बल्कि जनता के सामने भी सार्वजनिक करे. वे इसके लिए केजरीवाल पर दवाब बना रहे थे। लेकिन केजरीवाल इसके लिए तैयार नहीं थे। इसको लेकर दोनों के बीच कहा सुनी हो गई। बात गरमा गरमी तक पहुंच गई। वहां उपस्थित लोगों ने दोनों के बीच मामले को शांत कराया। यह बैठक अन्ना आदोंलन के नेता और जाने माने वकील प्रशांत भूषण के नौएडा स्थित घर पर चल रही थी।

पढ़ें :- उत्तराखंड के बाद गोवा में भी 300 यूनिट फ्री बिजली देने का वादा, सीएम केजरीवाल ने किए ऐलान

बैठक में अन्ना का अरविंद केजरीवाल को साफ कहना था कि जब हम कांग्रेस सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार की लड़ाई लड़ रहे हैं और सिस्टम में पारदर्शिता की बात कर रहे हैं तो हमे भी अपने यहां पारदर्शिता अपनानी चाहिए। हमे जनता से मिले एक एक पैसे का हिसाब उसको देना चाहिए। जो जनता हमसे इस उम्मीदों के साथ जुड़ी है कि हम भ्रष्टाचार के खात्में के लिए पारदर्शिता की बात कर रहे हैं तो हमें भी उस जनता को भरोसा दिलाना होगा कि हम भी उनसे मिली पाई पाई का हिसाब रख रहे हैं।

लेकिन अरविंद केजरीवाल छोटे छोटे हिसाब को लिखित में लाने और सार्वजनिक करने को तैयार नहीं थे। बताया जाता है कि अन्ना हजारे अरविंद केजरीवाल से करीब 20 लाख रूपए का हिसाब मांग रहे थे। लेकिन केजरीवाल कह रहे थे कि अन्ना इतना बड़ा आंदोलन है उसमें छोटे छोटे हिसाब लिखना संभव नहीं है। इस पर जब अन्ना अड़ गए। बताया जाता है कि अरविंद केजरीवाल बैठक मे अपना सिर पकड़ कर बैठ गए और कहने लगे कि अन्ना मैं ऐसे आंदोलन नहीं कर पाउंगा।

इस वजह से हुए विवाद 

इसी बीच किरण बेदी ने हस्तक्षेप कर अन्ना से कहा कि अन्ना ये बात सही है कि आंदोलन में कई बार बहुत छोटे हिसाब रखना संभव नहीं है। इसमें चूक हो जाती है। वहीं अन्ना की टीम के एक अन्य सदस्य मुफ्ती शमून कासमी ने देखा कि पैसों को लेकर अन्ना और केजरीवाल में विवाद हो रहा था तो उन्होंने चोरी से इस पूरे विवाद को अपने मोबाइल में रिकार्ड करना शुरू कर दिया था। लेकिन इसी बीच केजरीवाल की ओर से उस समय मीडिया का काम देख रहे विभुव की नजर मुफ्ती शमून कासमी पर पड़ गई। उन्होंने मामला सामने आने पर उन्हें आंदोलन से बाहर कर दिया। लेकिन उस दिन पैसे को लेकर हुए विवाद ने अन्ना के दिल दरवाजे केजरीवाल के लिए तंग हो गए। यही वह दिन था जब दोनों के बीच पहली बार दरार पड़ी और बाद में यह इस हद तक बढ़ी कि दोनों ने अपने रास्ते अलग कर लिए।

 

पढ़ें :- केजरीवाल 23 लाख की ईको कलर डॉप्लर मशीन को 38 लाख में खरीदने का बताएं गणित : सुरेश खन्ना
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...