हरभजन सिंह ने जीएसटी पर ली सरकार की फिरकी

harbhajan
हरभजन सिंह ने जीएसटी पर ली सरकार की फिरकी

नई दिल्ली। क्रिकेट के मैदान पर अपनी तीखी नोकझोंक के लिए मशहूर भारतीय फिरकी गेंदबाज हरभजन सिंह को वस्तु एवं सेवा कर (GST) रास नहीं आया है। अपनी गूगली पर अच्छे अच्छे बल्लेबाजों की छुट्टी कर देने वाले भज्जी ने ट्वीट कर जीएसटी को लेकर सरकार की फिरकी ली है। दरअसल हरभजन सिंह को डिनर बिल पर लगाया गया जीएसटी रास नहीं आया है।

Harbhajan Singh Reacts On Gst Tweets A Joke :

हरभजन सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है कि रेस्टोरेंट में डिनर का बिल भरते समय लगता है मानो खाने की मेज पर राज्य और केन्द्र सरकार आपके साथ ही खाना खा रही थी।

हरभजन सिंह का ट्वीट बताता है कि वह रेंस्टोरेंट के खाने के बिल पर लगने वाले एसजीएसटी और सीजीएसटी से खासा नाखुश हैं। आपको बता दें कि फाइव स्टार रोस्टोरेंट्स को 28 प्रतिशत जीएसटी स्लैब में रखा गया था जिसे बाद में घटा कर 18 प्रतिशत कर दिया गया है।

हरभजन के ट्वीट पर उनके फालोअर्स ने जमकर अपनी प्रतिक्रियाएं दी है। किसी ने हरभजन के सुर से सुर मिलाया है तो किसी ने हरभजन सिंह को जीएसटी के फायदे गिनाने की कोशिश की है।

नई दिल्ली। क्रिकेट के मैदान पर अपनी तीखी नोकझोंक के लिए मशहूर भारतीय फिरकी गेंदबाज हरभजन सिंह को वस्तु एवं सेवा कर (GST) रास नहीं आया है। अपनी गूगली पर अच्छे अच्छे बल्लेबाजों की छुट्टी कर देने वाले भज्जी ने ट्वीट कर जीएसटी को लेकर सरकार की फिरकी ली है। दरअसल हरभजन सिंह को डिनर बिल पर लगाया गया जीएसटी रास नहीं आया है।हरभजन सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है कि रेस्टोरेंट में डिनर का बिल भरते समय लगता है मानो खाने की मेज पर राज्य और केन्द्र सरकार आपके साथ ही खाना खा रही थी।[embed]https://twitter.com/harbhajan_singh/status/913033702355099649[/embed]हरभजन सिंह का ट्वीट बताता है कि वह रेंस्टोरेंट के खाने के बिल पर लगने वाले एसजीएसटी और सीजीएसटी से खासा नाखुश हैं। आपको बता दें कि फाइव स्टार रोस्टोरेंट्स को 28 प्रतिशत जीएसटी स्लैब में रखा गया था जिसे बाद में घटा कर 18 प्रतिशत कर दिया गया है।हरभजन के ट्वीट पर उनके फालोअर्स ने जमकर अपनी प्रतिक्रियाएं दी है। किसी ने हरभजन के सुर से सुर मिलाया है तो किसी ने हरभजन सिंह को जीएसटी के फायदे गिनाने की कोशिश की है।