1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. हरेन पांड्या मर्डर केस: सुप्रीम कोर्ट ने बरकरार रखा फैसला, 10 दोषी करार

हरेन पांड्या मर्डर केस: सुप्रीम कोर्ट ने बरकरार रखा फैसला, 10 दोषी करार

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। गुजरात के पूर्व गृहमंत्री हरेन पांड्या की हत्या के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को 10 आरोपियों को दोषी करार दिए जाने का फैसला बरकरार रखा है। गुजरात के पूर्व गृहमंत्री हरेन पांड्या (Haren Pandya) की हत्या के मामले में इन दोषियों ने पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी, जिसे खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह फैसला सुनाया. आपको बता दें कि 2003 में पांड्या का मर्डर कर दिया गया था।  

इस केस में दोषी करार दिए गए 12 लोगों में से 10 ने पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी। जस्टिस अरुण मिश्रा और विनीत सरन की बेंच ने इन्हें खारिज कर दिया। बेंच ने अपने फैसले में कहा, ‘हमने पुनर्विचार याचिकाओं को देखा और हम मानते हैं कि जिस आदेश की समीक्षा की अपील की गई थी, उसमें किसी तरह की गलती नहीं है जिसके लिए पुनर्विचार किया जाए। इसलिए पुनर्विचार याचिका खारिज की जाती है।’

बता दें कि 26 मार्च, 2003 को अहमदाबाद में पांड्या की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। सीबीआई के अनुसार, 2002 के गुजरात दंगों का बदला लेने के लिए पांड्या की हत्या कर दी गई थी। इसी साल जुलाई में निचली कोर्ट के फैसले को बहाल करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने 12 लोगों को दोषी करार दिया था।

मामले में असगर अली, मोहम्मद रऊफ, मोहम्मद परवेज अब्दुल कयूम शेख, परवेज खान पठान उर्फ अतहर परवेज, मोहम्मद फारूक उर्फहाजी फारूक, शाहनवाज गांधी, कलीम अहमदा उर्फ कलीमुल्लाह, रेहान पुथवाला, मोहम्मद रियाज सरेसवाला, अनीज माचिसवाला, मोहम्मद यूनुस सरेसवाला और मोहम्मद सैफुद्दीन को दोषी करार दिया गया है।  

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...