हरियाणा: अनिल विज समेत 6 MLA बने कैबिनेट मंत्री, 10 मंत्रियों को राज्यपाल ने दिलाई शपथ

Haryana cabinet
हरियाणा: अनिल विज समेत 6 MLA बने कैबिनेट मंत्री, 10 मंत्रियों को राज्यपाल ने दिलाई शपथ

चंडीगढ़। हरियाणा में सरकार गठन के 17 दिन बाद गुरुवार को मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ। भाजपा के वरिष्ठ नेता अनिल विज समेत छह विधायकों ने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली। वहीं पूर्व हॉकी खिलाड़ी संदीप सिंह समेत चार विधायकों को राज्यमंत्री पद की शपथ दिलाई गई। खट्टर सरकार में शपथ लेने वाले 10 मंत्रियों में एक निर्दलीय विधायक रणजीत सिंह चौटाला हैं, जो इंडियन नेशनल लोकदल(इनेलो) के प्रमुख और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके ओमप्रकाश चौटाला के भाई हैं।

Haryana 6 Ministers Including Anil Vij Became Cabinet Ministers Governor Sworn In 10 Ministers :

अनिल विज हरियाणा की भाजपा-जजपा सरकार के वरिष्ठ नेता हैं। इसी के चलते उन्होंने सबसे पहले कैबिनेट मंत्री के रूप में पद व गोपनीयता की शपथ ली। अनिल विज हरियाणा की अंबाला कैंट विधानसभा से छठी बार विधायक हैं। पिछली सरकार में वह स्वास्थ्य मंत्री रह चुके हैं।

वहीं जगादरी से भाजपा विधायक कंवर पाल गुज्जर ने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली। जगादरी से यह तीन बार विधायक रह चुके हैं। पिछली बार वह हरियाणा विधानसभा के स्पीकर थे। इस बार इन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया जा रहा है। बल्लभगढ़ से भाजपा विधायक मूलचंद शर्मा ने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली। वह ब्राह्मण बिरादरी से आते हैं।

वहीं रनिया से निर्दलीय विधायक रणजीत सिंह चौटाला ने भी कैबिनेट मंत्री की शपथ ली। वह ओम प्रकाश चौटाला के भाई हैं। उन्हें चुनाव परिणाम के बाद भाजपा को बिना किसी शर्त के समर्थन देने का इनाम कैबिनेट मंत्री के तौर पर मिला है।

इसके साथ ही भिवानी के लोहारू से भाजपा विधायक जेपी दलाल ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली है। वह जाट समुदाय से आते हैं। जेपी दलाल पहली बार विधायक बने हैं। बावल से भाजपा विधायक बनवारी लाल भी कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं, उन्होंने छठे नंबर पर पद और गोपनीयता की शपथ ली। बनवारी लाल पिछली सरकार में भी मंत्री थे।

ये बने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)
ओमप्रकाश यादव ने राज्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। वह नारनौल से भाजपा विधायक हैं, ओमप्रकाश लगातार दूसरी बार विधायक बने हैं। वह सांसद राव इंद्रजीत सिंह के करीबी माने जाते हैं। पहली बार मंत्री बन रहे हैं। भाजपा की तीन महिला विधायकों में से एक कमलेश ढांडा को राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के तौर पर शपथ दिलाई गई है। कमलेश कलायत से भाजपा विधायक हैं। वह खट्टर सरकार में एकमात्र महिला मंत्री हैं। अनूप धानक उकलाना विधानसभा सीट से जजपा विधायक हैं। उन्होंने राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार के रूप में शपथ ली। इसके साथ ही पूर्व हॉकी खिलाड़ी संदीप सिंह ने राज्यमंत्री पद के रूप में शपथ ली। वह पिहोवा से भाजपा विधायक हैं।

दुष्यंत चौटाला को मिले 11 विभाग

मंत्रिमंडल विस्तार से पहले मुख्‍यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के बीच विभागों का बंटवारा हुआ। दुष्‍यंत चौटाला को 11 मंत्रालय मिले। जिनमें राजस्‍व एवं आपात प्रबंधन विभाग, एक्साइज एंड टैक्सेसन, ग्रामीण विकास एवं पंचायत, उद्योग एवं वाणिज्‍य, जनस्‍वास्‍थ्‍य अभियांत्रिकी, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्‍ता मामले, श्रम एवं रोजगार, सिविल एविएशन, आर्कियोलॉजी एंड म्यूजियम, पुनर्वास और कॉन्सोलिडेशन शामिल हैं।

चंडीगढ़। हरियाणा में सरकार गठन के 17 दिन बाद गुरुवार को मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ। भाजपा के वरिष्ठ नेता अनिल विज समेत छह विधायकों ने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली। वहीं पूर्व हॉकी खिलाड़ी संदीप सिंह समेत चार विधायकों को राज्यमंत्री पद की शपथ दिलाई गई। खट्टर सरकार में शपथ लेने वाले 10 मंत्रियों में एक निर्दलीय विधायक रणजीत सिंह चौटाला हैं, जो इंडियन नेशनल लोकदल(इनेलो) के प्रमुख और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके ओमप्रकाश चौटाला के भाई हैं। अनिल विज हरियाणा की भाजपा-जजपा सरकार के वरिष्ठ नेता हैं। इसी के चलते उन्होंने सबसे पहले कैबिनेट मंत्री के रूप में पद व गोपनीयता की शपथ ली। अनिल विज हरियाणा की अंबाला कैंट विधानसभा से छठी बार विधायक हैं। पिछली सरकार में वह स्वास्थ्य मंत्री रह चुके हैं। वहीं जगादरी से भाजपा विधायक कंवर पाल गुज्जर ने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली। जगादरी से यह तीन बार विधायक रह चुके हैं। पिछली बार वह हरियाणा विधानसभा के स्पीकर थे। इस बार इन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया जा रहा है। बल्लभगढ़ से भाजपा विधायक मूलचंद शर्मा ने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली। वह ब्राह्मण बिरादरी से आते हैं। वहीं रनिया से निर्दलीय विधायक रणजीत सिंह चौटाला ने भी कैबिनेट मंत्री की शपथ ली। वह ओम प्रकाश चौटाला के भाई हैं। उन्हें चुनाव परिणाम के बाद भाजपा को बिना किसी शर्त के समर्थन देने का इनाम कैबिनेट मंत्री के तौर पर मिला है। इसके साथ ही भिवानी के लोहारू से भाजपा विधायक जेपी दलाल ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली है। वह जाट समुदाय से आते हैं। जेपी दलाल पहली बार विधायक बने हैं। बावल से भाजपा विधायक बनवारी लाल भी कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं, उन्होंने छठे नंबर पर पद और गोपनीयता की शपथ ली। बनवारी लाल पिछली सरकार में भी मंत्री थे। ये बने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) ओमप्रकाश यादव ने राज्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। वह नारनौल से भाजपा विधायक हैं, ओमप्रकाश लगातार दूसरी बार विधायक बने हैं। वह सांसद राव इंद्रजीत सिंह के करीबी माने जाते हैं। पहली बार मंत्री बन रहे हैं। भाजपा की तीन महिला विधायकों में से एक कमलेश ढांडा को राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के तौर पर शपथ दिलाई गई है। कमलेश कलायत से भाजपा विधायक हैं। वह खट्टर सरकार में एकमात्र महिला मंत्री हैं। अनूप धानक उकलाना विधानसभा सीट से जजपा विधायक हैं। उन्होंने राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार के रूप में शपथ ली। इसके साथ ही पूर्व हॉकी खिलाड़ी संदीप सिंह ने राज्यमंत्री पद के रूप में शपथ ली। वह पिहोवा से भाजपा विधायक हैं। दुष्यंत चौटाला को मिले 11 विभाग मंत्रिमंडल विस्तार से पहले मुख्‍यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के बीच विभागों का बंटवारा हुआ। दुष्‍यंत चौटाला को 11 मंत्रालय मिले। जिनमें राजस्‍व एवं आपात प्रबंधन विभाग, एक्साइज एंड टैक्सेसन, ग्रामीण विकास एवं पंचायत, उद्योग एवं वाणिज्‍य, जनस्‍वास्‍थ्‍य अभियांत्रिकी, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्‍ता मामले, श्रम एवं रोजगार, सिविल एविएशन, आर्कियोलॉजी एंड म्यूजियम, पुनर्वास और कॉन्सोलिडेशन शामिल हैं।