बेटी हुई तो मां ने पन्नी में लपेटकर फेंक दिया नाले में, कुत्तों ने बचाई मासूम की जान

bachcha
बेटी हुई तो मां ने पन्नी में लपेटकर फेंक दिया नाले में, कुत्तों ने बचाई मासूम की जान

हरियाणा। एक महिला ने अपनी ममता का ख्याल नहीं रखा, लेकिन जानवरों ने इंसानियत को शर्मसार होने से बचा लिया। दरअसल, ऐसा ही मामला हरियाणा के कैथल जिले में आया है जहां डोगरा गेट में सुबह लगभग 4 बजे एक मां ने पैदा होते ही अपनी बेटी को एक पॉलिथीन में बंद करके गंदे नाले में फेंक दिया, क्योंकि वह बेटी थी। कुछ देर बाद एक कुत्ते ने पॉलिथीन को नाले से खींचकर बाहर निकाला।

Haryana Kaithal Mother Throw Baby Girl After Birth Video Is Going Viral :

यह घटना शहर में डोगरा गेट के पास गुरुवार सुबह की है और सीसीटीवी में कैद हो गई। महिला ने सुबह 4.18 बजे बच्ची को नाले में फेंका और 4 बजकर 27 मिनट पर कुछ दूरी पर घूम रहा कुत्ता खींचकर नाले से बाहर गली में ले आया। सबसे पहले नवजात को एक व्यक्ति मुखत्यार ने देखा।

उसने बताया, “मैं भौंकने की आवाज सुनकर घर से बाहर निकला। देखा कि कुत्ता पॉलीथिन के पास खड़ा है। किसी बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी। मैंने फौरन पड़ोसियों को बुलाकर सूचना पुलिस को दी। पॉलीथिन से नवजात बच्ची मिली, जिसे पुलिस ने सिविल अस्पताल पहुंचाया।”

पुलिस को इसकी सूचना दी गई और तुरंत कैथल के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसका इलाज चल रहा है। मां को मालूम नहीं था की उसकी ये करतूत सीसीटीवी कमरे में कैद हो जाएगी। कैमरे की CCTV रिकॉर्डिंग के आधार पर अब पुलिस आरोपी की तलाश में जुट गई है।

डॉक्टर डॉ. दिनेश कंसल का कहना है की बच्ची का वजन करीब एक किलो 100 ग्राम है। बच्ची के स्वस्थ होने के बाद इसको बाल संरक्षण विभाग के हवाले कर दिया जाएगा। उसके बाद जरूरी प्रक्रिया पूरी होने के बाद उसे पंचकूला अनाथालय में भेज दिया जाएगा। अगर कोई गोद लेना चाहता है तो विभाग से संपर्क करने के बाद कागजी कार्रवाई होने के बाद गोद ले सकता है।

हरियाणा। एक महिला ने अपनी ममता का ख्याल नहीं रखा, लेकिन जानवरों ने इंसानियत को शर्मसार होने से बचा लिया। दरअसल, ऐसा ही मामला हरियाणा के कैथल जिले में आया है जहां डोगरा गेट में सुबह लगभग 4 बजे एक मां ने पैदा होते ही अपनी बेटी को एक पॉलिथीन में बंद करके गंदे नाले में फेंक दिया, क्योंकि वह बेटी थी। कुछ देर बाद एक कुत्ते ने पॉलिथीन को नाले से खींचकर बाहर निकाला। यह घटना शहर में डोगरा गेट के पास गुरुवार सुबह की है और सीसीटीवी में कैद हो गई। महिला ने सुबह 4.18 बजे बच्ची को नाले में फेंका और 4 बजकर 27 मिनट पर कुछ दूरी पर घूम रहा कुत्ता खींचकर नाले से बाहर गली में ले आया। सबसे पहले नवजात को एक व्यक्ति मुखत्यार ने देखा। उसने बताया, "मैं भौंकने की आवाज सुनकर घर से बाहर निकला। देखा कि कुत्ता पॉलीथिन के पास खड़ा है। किसी बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी। मैंने फौरन पड़ोसियों को बुलाकर सूचना पुलिस को दी। पॉलीथिन से नवजात बच्ची मिली, जिसे पुलिस ने सिविल अस्पताल पहुंचाया।" पुलिस को इसकी सूचना दी गई और तुरंत कैथल के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसका इलाज चल रहा है। मां को मालूम नहीं था की उसकी ये करतूत सीसीटीवी कमरे में कैद हो जाएगी। कैमरे की CCTV रिकॉर्डिंग के आधार पर अब पुलिस आरोपी की तलाश में जुट गई है। डॉक्टर डॉ. दिनेश कंसल का कहना है की बच्ची का वजन करीब एक किलो 100 ग्राम है। बच्ची के स्वस्थ होने के बाद इसको बाल संरक्षण विभाग के हवाले कर दिया जाएगा। उसके बाद जरूरी प्रक्रिया पूरी होने के बाद उसे पंचकूला अनाथालय में भेज दिया जाएगा। अगर कोई गोद लेना चाहता है तो विभाग से संपर्क करने के बाद कागजी कार्रवाई होने के बाद गोद ले सकता है।