1. हिन्दी समाचार
  2. हरियाणा: राज्य सरकार ने खारिज की गुरमीत राम रहीम की पैरोल अर्जी, दूसरी बार टूटा बाहर आने का सपना

हरियाणा: राज्य सरकार ने खारिज की गुरमीत राम रहीम की पैरोल अर्जी, दूसरी बार टूटा बाहर आने का सपना

Haryana The State Government Rejected The Parole Application Of Gurmeet Ram Rahim The Dream Of Coming Out Broken For The Second Time

By बलराम सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। हत्या और साध्वी से दुष्कर्म जैसे गंभीर अपराधों में आजीवन कारावास की सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की पैरोल दूसरी बार फिर खारिज हो गई। बताया जा रहा है कि इस बार डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की मां नसीब कौर ने पैरोल के लिए आवेदन किया था। नसीब कौर ने अपनी बीमारी का हवाला देते हुए डेरा प्रमुख को पैरोल देने की मांग की थी। सुनारिया जेल प्रशासन ने पैरोल की अर्जी सरकार को भेज दी थी।

पढ़ें :- इंग्लैंड के ये तीन खिलाड़ी भारत पहुंचे, अभी करेंगे क्वारंटाइन के नियमों का पालन

सरकार ने शुक्रवार को जेल प्रशासन की ओर से आए राम रहीम की मां के आवेदन को खारिज कर दिया है। ऐसे में अब साध्वी यौन शोषण मामले में सजा काट रहे राम रहीम को रोहतक की सुनारिया जेल में ही रहना होगा। सरकार के फैसले से डेरा प्रमुख का सपना फिर टूट गया है, क्योंकि इससे पहले भी वह जेल से बाहर आने के लिए कई बार पैरोल की मांग कर चुका है।

बता दें कि राम रहीम तीन सप्ताह की पैरोल चाहता था। उसकी मां नसीब कौर ने अपनी बीमारी का हवाला देते हुए पैरोल के लिए एक सप्ताह पहले आवेदन किया था। लेकिन सरकार डेरा प्रमुख को पैरोल देकर कानून व्यवस्था के मद्देनजर कोई मुसीबत मोल नहीं लेना चाहती। वर्तमान में कोरोना संकट के चलते राम रहीम को पैरोल देना और भी बड़ी मुसीबत बन सकता है। सरकार ने सुरक्षा एजेंसियों के इनपुट व अन्य सभी पहलुओं को देखते हुए उसकी पैरोल की अर्जी खारिज कर दी है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...