1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. हाथरस गैंगरेप कांड: सीएम योगी ने गठित की SIT, अंतिम संस्कार को लेकर चौतरफा घिरी यूपी सरकार

हाथरस गैंगरेप कांड: सीएम योगी ने गठित की SIT, अंतिम संस्कार को लेकर चौतरफा घिरी यूपी सरकार

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। हाथरस गैंगरेप कांड को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार कठघरे में खड़ा है। परिवार के मर्जी क बिना शव का अंतिम संस्कार भी रात में कर दिया गया। इसको लेकर सरकार की मंशा पर सवाल उठ रहे हैं। पूरे प्रकारण में ही पुलिस, प्रशासन और शासन की मंशा को लेकर विपक्ष सवाल खड़े कर रहा था। वहीं, अब सीएम योगी आदित्यनाथ ने मामले में एसआईटी गठित करने का ऐलान किया है।

पढ़ें :- पठानकोट में लगे सनी देओल के लापता होने के पोस्टर, लोगों का आरोप-एक भी काम नहीं किए

गृह सचिव की अध्‍यक्षता वाली इस तीन सदस्‍यीय टीम में डीआईजी चंद्र प्रकाश और आईपीएस अधिकारी पूनम को सदस्‍य बनाया गया है। सीएम ने पूरे घटनाक्रम पर सख्‍त रुख अख्तियार करते हुए टीम को घटना की तह तक जाने के निर्देश दिए हैं। उन्‍होंने समयबद्ध ढंग से जांच पूरी कर रिपोर्ट देने के निर्देश भी दिए हैं। गौरतलब है कि इस मामले में चारों आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

सीएम ने उनके खिलाफ फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में मुक़दमा चलाकर जल्द से जल्द सजा दिलाने का भी आदेश दिया। बता दें कि, यूपी के हाथरस में दलित युवती के साथ निर्भया जैसी हैवानियत पर सियासत गरमा गई है। सोशल मीडिया पर लोगों का आक्रोश झलक रहा है। दिल्ली के जिस सफदरजंग अस्पताल में पीड़िता ने कल आखिरी सांस ली और उसके बाद अस्पताला के बाहर प्रदर्शन हुआ, कैंडल मार्च निकला।

यूपी में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग हो रही है। सीएम योगी ने मामले में जड़ तक पहुंचने के लिए एसआईटी गठित कर दी है। इस तीन सदस्‍यीय टीम की अध्‍यक्षता गृह सचिव भगवान स्वरूप करेंगे। अन्‍य दो सदस्‍यों में डीआईजी चंद्र प्रकाश और सेनानायक पीएसी आगरा पूनम को शामिल किया गया है। सीएम ने पूरे मामले की छानबीन कर जल्द रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है।

 

पढ़ें :- एयरपोर्ट पर कस्टम ने बरामद की बेशकीमती घड़ियां, एक की कीमत 27.9 करोड़ रुपये

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...