इस किले में 150 साल से गूंज रही 7 लड़कियों की आवाजें, जानिए रहस्य

hauntedplace

Haunted Story Of Lalitpur Talbehat Fort

ललितपुर। वैसे तो हमारे देश में कई ऐसी जगह है जहां का नाम सुनकर लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं। आज हम आपको एक ऐसे किले के बारे में बताने जा रहे है जहां लोग कदम रखने से भी डरते हैं। यह किला पिछले 150 साल से 7 लड़कियों की चीखों का गवाह बना हुआ है। इस किले में कुछ तो गड़बड़ है।पिछले 150 साल से यहाँ लोग 7 लड़कियों के चीखने की आवाज सुन रहे हैं। इस किले के दरवाजे पर 7 लड़कियों की पेटिंग भी बनी हुई है।

जानिए क्यों गूँज रही है 7 लड़कियों की आवाजें

1850 में ललितपुर के तालबेहट में मर्दन सिंह ने एक किला बनवाया था। राजा मर्दन सिंह ने 1857 की क्रांति में रानी लक्ष्मीबाई का साथ दिया था। तालबेहट के इस किले को मर्दन ने अपने पिता प्रहलाद के लिए बनवाया था। मर्दन सिंह को आज भी क्रांतिकारी के रूप में याद किया जाता है।

इतिहासकारों के अनुसार, अक्षय तृतीया के दिन तालबेहट राज्य की 7 लड़कियां राजा मर्दन सिंह के इस किले में नेग मांगने गई थीं और उस समय राजा के पिता प्रह्लाद किले में अकेले थे। उन खूबसूरत लड़कियों को देख कर राजा का मन बदल गया और उसने सातों लड़कियों को अपनी हवस का शिकार बना लिया। जिसके बाद उन लड़कियों ने आहत होकर महल से कूद कर जान दे दी। तब से कहा जाता है कि महल में उन सातों लड़कियों के चीखने की आवाज साफ़ सुनाई देती है। यह घटना अक्षय तृतीया के दिन हुई थी इसलिए यहां आज भी यह त्यौहार नहीं मनाया जाता है।

ललितपुर। वैसे तो हमारे देश में कई ऐसी जगह है जहां का नाम सुनकर लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं। आज हम आपको एक ऐसे किले के बारे में बताने जा रहे है जहां लोग कदम रखने से भी डरते हैं। यह किला पिछले 150 साल से 7 लड़कियों की चीखों का गवाह बना हुआ है। इस किले में कुछ तो गड़बड़ है।पिछले 150 साल से यहाँ लोग 7 लड़कियों के चीखने की आवाज सुन रहे हैं। इस किले…