1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. बायो बबल से तंग आये सभी खिलाड़ियों समेत हेड कोच रवि शास्त्री

बायो बबल से तंग आये सभी खिलाड़ियों समेत हेड कोच रवि शास्त्री

By शिव मौर्या 
Updated Date

Head Coach Ravi Shastri Including All Players Fed Up With Bio Bubble

नई दिल्ली। भारत ने इंग्लैंड को चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 3—1 से हरा दिया है। अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम में खेले गये चौथे टेस्ट मैच में भारत ने इंग्लैंड को पारी और 25 रनों के अंतर से हरा दिया। भारत ये सीरीज जीतकर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाली दूसरी टीम बन गई है। भारत से पहले न्यूजीलैंड की टीम ने फाइनल में जग​ह बना लिया था।

पढ़ें :- Tokyo Olympic: भारत की इस महिला खिलाड़ी से कि जा रही पदक की उम्मीद,पहले मैच जीत दर्ज कर भरोसे को और बढ़ाया

टीम इंडिया आजकल बायो-बबल से गुजर रही है। भारतीय टीम के हेड कोच रवि शास्त्री ने कहा है कि वो बायो-बबल से परेशान हो गए हैं और इससे छुटकारा पाना चाहते हैं। शास्त्री ने शनिवार को चौथा टेस्ट खत्म होने के बाद स्टार स्पोर्ट्स से बातचीत की। पूर्व क्रिकेटर लक्ष्मण शिवरामकृष्णन से हेडकोच रवि शास्त्री ने कहा कि अब वो बायो-बबल से मानसिक तौर पर परेशान हो चुके है और खिलाड़ी बबल को फूटने का इंतजार नहीं कर सकते हैं।

उन्होंने आगे कहा कि ऐसे समय में एक खिलाड़ी के लिए होटल के एक कमरे में रहना काफी चुनौतीपूर्ण हो जाता है, जब वो मैदान पर अपना बेस्ट नहीं दे पा रहा हो। उन्होंने आगे कहा कि मैं इससे निकलने का इंतजार कर रहा हूं। हम बबल में 6 महीने से हैं, आप दिन भर एक जैसे ही चेहरे देखते हैं। अब इस बबल का फटने का समय है। मैं जानता हूं कि अभी तीन हफ्ते और हैं, लेकिन ये बबल अब फट जाएगा।

इसी संबंध में खिलाड़ियों की पत्नियों ने भी ट्वीट करके अपनी समस्या जाहिर किया है। कोरोना के कारण भारतीय क्रिकेट टीम एक विशेष सुरक्षा दायरे (बाॅयो-बबल) में ट्रैवेल कर रही है। इस कुछ दौरान क्रिकेटरों का परिवार तो उनके साथ था लेकिन कुछ का परिवार नहीं था। अश्विन की पत्नी पृथ्वी भी उन्हीं में से एक थीं। जो अपने हेसबैंड से दूर थी। अब जब इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज समाप्त हो गई है, तब उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘ब्रेक द बबल’ अब जब टेस्ट सीरीज समाप्त हो गई है तो अश्विन सहित कई खिलाड़ी बाॅयो-बबल (कोविड-19 प्रोटोकॉल) से बाहर निकल कर परिवार के लोगों से मिल सकेंगे। पिछले कई महीनों से अपने हेसबैंड से दूर रह रहीं पृथ्वी अब एक बार आर अश्विन से मिल सकेंगी।

 

पढ़ें :- Tokyo Olympic: देश की ये दो बेटियां जो नहीं लगा पाईं मेडल पर निशाना, पिस्टल में आई तकनीकी खराबी बनी राह में रोड़ा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...