छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य विभाग का बुरा हाल, अपने मुंह मियां मिट्ठू बन रहे स्वास्थ्य मंत्री!

1545478929-9726

रायपुर: पूरे छत्तीसगढ़ में कोरोना संकट बढ़ता ही जा रहा है। वहीं, दो दिन पहले राज्य में लौटे स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव डॉक्टरों की मदद करने की बजाय दक्षिण कोरिया के राजदूत से गप्पे मारने में लगे हुए हैं।

Health Department In Chhattisgarh In Bad Condition :

दक्षिण कोरिया से छत्तीसगढ़ की तुलना करने वाले महाराजा साहब क्या आपको पता है दक्षिण कोरिया में प्रतिदिन कितने लोगों की कोरोना टेस्ट हो रहे थे ? शायद पता हो लेकिन फिर भी हम आपको बताए दे रहे हैं। दक्षिण कोरिया में प्रतिदिन 15 हजार लोगों के कोरोना टेस्ट हो रहे है जबकि छत्तीसगढ़ में महज 40 लोगो के।

दक्षिण कोरिया में डॉक्टरों एवं मेडिकल स्टाफ के लिए उच्चस्तरीय गुणवत्ता वाले मास्क,दस्ताने और अन्य जरूरी उपकरण दिए गए हैं जबकि आपके नेतृत्व में यहां मास्क टेंडर में ही घोटाला हो गया है। दक्षिण कोरिया ने अपने अस्पतालों को उच्च स्तरीय सुविधाओं से लैस कर दिया जबकि आपके स्वास्थ्य विभाग में सिर्फ एम्स में ही कोरोना टेस्ट हो रहा है।

कोरिया से अपनी तुलना करना छोडिये राजा साहब प्रदेश की जमीनी हकीकत जानिए और सभी दिक्कतों को दूर करने की कोशिश कीजिये। सेल्फ क्वारंटाइन में होकर दक्षिण कोरिया के राजदूत से वीडियो कांफ्रेंसिंग में बात करना छोड़ प्रदेश के डॉक्टरों एवं जिम्मेदारों से बात कीजिये व निर्देश दीजिये। अपने मुंह मियां मिट्ठू बनने से अच्छा है कुछ काम कीजिये ताकि ये विपदा जल्द ही दूर हो सके।

रायपुर: पूरे छत्तीसगढ़ में कोरोना संकट बढ़ता ही जा रहा है। वहीं, दो दिन पहले राज्य में लौटे स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव डॉक्टरों की मदद करने की बजाय दक्षिण कोरिया के राजदूत से गप्पे मारने में लगे हुए हैं। दक्षिण कोरिया से छत्तीसगढ़ की तुलना करने वाले महाराजा साहब क्या आपको पता है दक्षिण कोरिया में प्रतिदिन कितने लोगों की कोरोना टेस्ट हो रहे थे ? शायद पता हो लेकिन फिर भी हम आपको बताए दे रहे हैं। दक्षिण कोरिया में प्रतिदिन 15 हजार लोगों के कोरोना टेस्ट हो रहे है जबकि छत्तीसगढ़ में महज 40 लोगो के। दक्षिण कोरिया में डॉक्टरों एवं मेडिकल स्टाफ के लिए उच्चस्तरीय गुणवत्ता वाले मास्क,दस्ताने और अन्य जरूरी उपकरण दिए गए हैं जबकि आपके नेतृत्व में यहां मास्क टेंडर में ही घोटाला हो गया है। दक्षिण कोरिया ने अपने अस्पतालों को उच्च स्तरीय सुविधाओं से लैस कर दिया जबकि आपके स्वास्थ्य विभाग में सिर्फ एम्स में ही कोरोना टेस्ट हो रहा है। कोरिया से अपनी तुलना करना छोडिये राजा साहब प्रदेश की जमीनी हकीकत जानिए और सभी दिक्कतों को दूर करने की कोशिश कीजिये। सेल्फ क्वारंटाइन में होकर दक्षिण कोरिया के राजदूत से वीडियो कांफ्रेंसिंग में बात करना छोड़ प्रदेश के डॉक्टरों एवं जिम्मेदारों से बात कीजिये व निर्देश दीजिये। अपने मुंह मियां मिट्ठू बनने से अच्छा है कुछ काम कीजिये ताकि ये विपदा जल्द ही दूर हो सके।