पूरे हफ्ते चुस्त-दुरुस्त रहने के लिए हफ्ते में एक बार करें डीटॉक्स

detox

लखनऊ। इस भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी में अक्सर हम अपने स्वास्थ्य का ध्यान नहीं रख पाते हैं। आजकल की जीवनशैली में खान पान का ख्याल न रख पाना आम हो गया है, इसलिए जरूरी है की अपनी सेहत का आपको खास ख्याल रखना चाहिए। क्या आप जानते है हमारे शरीर को भी हर हफ्ते डीटॉक्स होना ज़रूरी है जिससे हम पुरे हफ्ते फुर्ती के साथ अपने जीवन का आनंद उठा सकते है।

Health How To Detox Your Body :

हर रोज़ आपका शरीर कुछ ऐसे तत्वों का भी समावेश कर लेता है जिसके लिए हम बने ही नहीं है। कई बार चेहरे पर मुहासों का होना, स्फूर्ति और आम दिनचर्या में आलस दर्शाता है कि आपका शरीर भी आपसे डीटॉक्स की मांग कर रहा है। ऐसे में आपको तुरंत बॉडी को डीटॉक्स कर अपने शरीर के विषैले तत्वों को अपने बहार फेक देना चाहिए।

  • ऐसे में ज्यादा तैलीय चीज़ो का त्याग करे और हरी सब्ज़ियो को अपनी डाइट में शामिल करें।
  • ग्रीन टी को अपने रूटीन में शामिल करें, चाय से थोड़ी दूरी बनाए। ग्रीन टी में नेचुरल एंटी-ऑक्सीडेंट होता है जो
  • हमारे शरीर के हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है।
  • नींद पूरी लें। नींद पूरी न होने की वजह से भी हम सुस्त और आलसी हो जाते हैं और काम करने की क्षमता भी घट जाती है।
  • लहसुन को अपनी थाली में ऐड करे, इससे शरीर को विषैले पदार्थो से दूर रहने में मदद मिलती है।
  • इंजेक्शन से बनी सब्ज़िया और फलो को न खाए, मुमकिन हो तब कुछ घरेलु सब्ज़िया खुद ही उगाए।
लखनऊ। इस भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी में अक्सर हम अपने स्वास्थ्य का ध्यान नहीं रख पाते हैं। आजकल की जीवनशैली में खान पान का ख्याल न रख पाना आम हो गया है, इसलिए जरूरी है की अपनी सेहत का आपको खास ख्याल रखना चाहिए। क्या आप जानते है हमारे शरीर को भी हर हफ्ते डीटॉक्स होना ज़रूरी है जिससे हम पुरे हफ्ते फुर्ती के साथ अपने जीवन का आनंद उठा सकते है।हर रोज़ आपका शरीर कुछ ऐसे तत्वों का भी समावेश कर लेता है जिसके लिए हम बने ही नहीं है। कई बार चेहरे पर मुहासों का होना, स्फूर्ति और आम दिनचर्या में आलस दर्शाता है कि आपका शरीर भी आपसे डीटॉक्स की मांग कर रहा है। ऐसे में आपको तुरंत बॉडी को डीटॉक्स कर अपने शरीर के विषैले तत्वों को अपने बहार फेक देना चाहिए।
  • ऐसे में ज्यादा तैलीय चीज़ो का त्याग करे और हरी सब्ज़ियो को अपनी डाइट में शामिल करें।
  • ग्रीन टी को अपने रूटीन में शामिल करें, चाय से थोड़ी दूरी बनाए। ग्रीन टी में नेचुरल एंटी-ऑक्सीडेंट होता है जो
  • हमारे शरीर के हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है।
  • नींद पूरी लें। नींद पूरी न होने की वजह से भी हम सुस्त और आलसी हो जाते हैं और काम करने की क्षमता भी घट जाती है।
  • लहसुन को अपनी थाली में ऐड करे, इससे शरीर को विषैले पदार्थो से दूर रहने में मदद मिलती है।
  • इंजेक्शन से बनी सब्ज़िया और फलो को न खाए, मुमकिन हो तब कुछ घरेलु सब्ज़िया खुद ही उगाए।