हिमाचल : लगातार जारी हैं बारिश का कहर, पांच लोगों की मौत

himachal pradesh rain
हिमाचल : लगातार जारी हैं बारिश का कहर, पांच लोगों की मौत

शिमला। हिमाचल प्रदेश में ​बीते कई दिनों से हो रही बारिश का कहर जारी है। लगातार हो रही इस बारिश से कई जगह भूस्खलन हो गया, जिसके चलते शिमला, मंडी, सोलन और ऊना में स्कूल बंद कर दिए गये हैं। मौसम की बदमिजाजी के कारण कुल्लू में बीती रात को मणिकर्ण घाटी में बादल फट गया, जिसके पानी से कटागला पूरी तरह से जलमग्न हो गया। बचावकार्य में जुटी टीमों ने तीन विदेशी पर्यटकों को यहां से रेस्क्यू किया है। उधर स्थानीय लोग भी अपने—अपने घरों से दूर चले गए।

Heavy Rain In Himachal 5 Killed Due To Landscape :

बता जा रहा है कि जिला के उपनगर भुंतर में बारिश नालियों को भरने के बाद घरों तक पहुंच गया। यहां के दोहरानाला में ग्रामीण क्षेत्र की दो पुलियां नाले के तेज बहाव में बह गई, जिससे गांवों का संपर्क कट गया है। आनी उपमंडल के हरीपुर में एक मकान पर पहाड़ी का मलबा गिर गया। हालाकि इसमे कोई हताहत नही हुआ है, लेकिन पूरा घर तबाह हो गया। पशुओं को निकालने के लिए दमकल विभाग की गाड़ी मौके पर पहुंची। यहां बारिश के चलते कई सड़क मार्ग भी प्रभावित हुए है। उधर, मौसम खराबी के चलते कुल्लू के उपायुक्त यूनुस ने जिला के सभी शिक्षण संस्थानों में एक दिन का अवकाश घोषित कर दिया है।

बता दें कि यहां से सोलन में दो दिनों से बारिश हो रही है। जिस कारण नालागढ़ में भी एक बड़ा हादसा हुआ जिसमें एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। जिसके बाद प्रशासन यहां पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है। वहीं बिलासपुर जिले में लगातार हो रही भारी बारिश से पूरे जिले में सड़क मार्ग ठप हो गए हैं। तमाम गाड़ियां रास्ते में ही फंसी है। बिलासपुर के समीप झरलोग गांव में रिहायशी मकान पर बड़ा लैंड स्लाइड होने के कारण भीतर सो रही दादी पोती की दबकर मौत हो गयी। फिलहाल बचावकार्य मे लगी टीमे हर संभव प्रयास कर रही है।

शिमला। हिमाचल प्रदेश में ​बीते कई दिनों से हो रही बारिश का कहर जारी है। लगातार हो रही इस बारिश से कई जगह भूस्खलन हो गया, जिसके चलते शिमला, मंडी, सोलन और ऊना में स्कूल बंद कर दिए गये हैं। मौसम की बदमिजाजी के कारण कुल्लू में बीती रात को मणिकर्ण घाटी में बादल फट गया, जिसके पानी से कटागला पूरी तरह से जलमग्न हो गया। बचावकार्य में जुटी टीमों ने तीन विदेशी पर्यटकों को यहां से रेस्क्यू किया है। उधर स्थानीय लोग भी अपने—अपने घरों से दूर चले गए।बता जा रहा है कि जिला के उपनगर भुंतर में बारिश नालियों को भरने के बाद घरों तक पहुंच गया। यहां के दोहरानाला में ग्रामीण क्षेत्र की दो पुलियां नाले के तेज बहाव में बह गई, जिससे गांवों का संपर्क कट गया है। आनी उपमंडल के हरीपुर में एक मकान पर पहाड़ी का मलबा गिर गया। हालाकि इसमे कोई हताहत नही हुआ है, लेकिन पूरा घर तबाह हो गया। पशुओं को निकालने के लिए दमकल विभाग की गाड़ी मौके पर पहुंची। यहां बारिश के चलते कई सड़क मार्ग भी प्रभावित हुए है। उधर, मौसम खराबी के चलते कुल्लू के उपायुक्त यूनुस ने जिला के सभी शिक्षण संस्थानों में एक दिन का अवकाश घोषित कर दिया है।बता दें कि यहां से सोलन में दो दिनों से बारिश हो रही है। जिस कारण नालागढ़ में भी एक बड़ा हादसा हुआ जिसमें एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। जिसके बाद प्रशासन यहां पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है। वहीं बिलासपुर जिले में लगातार हो रही भारी बारिश से पूरे जिले में सड़क मार्ग ठप हो गए हैं। तमाम गाड़ियां रास्ते में ही फंसी है। बिलासपुर के समीप झरलोग गांव में रिहायशी मकान पर बड़ा लैंड स्लाइड होने के कारण भीतर सो रही दादी पोती की दबकर मौत हो गयी। फिलहाल बचावकार्य मे लगी टीमे हर संभव प्रयास कर रही है।