1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Kerala heavy rain: केरल में भारी बारिश, राहत-बचाव के लिए सेना की ली जा रही मदद

Kerala heavy rain: केरल में भारी बारिश, राहत-बचाव के लिए सेना की ली जा रही मदद

केरल में इस वक्त भारी बारिश (Kerala Rain) की वजह से बाढ़ आई हुई है, जिसने भयंकर हालात पैदा कर दिए हैं।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Kerala heavy rain: केरल में इस वक्त भारी बारिश (Kerala Rain) की वजह से बाढ़ आई हुई है, जिसने भयंकर हालात पैदा कर दिए हैं। भारी बारिश और लैंडस्लाइड (Kerala Rain And Landslide) की घटनाओं की तस्वीरें और वीडियो दिल दहलाने वाले हैं। भारी बारिश की वजह से सड़कें, नदियां पानी से लबालब भरी हुई हैं। कहीं कारें पानी में तैरती दिख रही हैं वहीं कहीं नदी किनारे मौजूद घर धराशायी होकर पानी में समा रहे है। इतना ही नहीं केरल की इस जानलेवा बारिश ने अबतक 26 जिंदगियों को लील लिया है।

पढ़ें :- Kerala heavy rain: केरल के कई हिस्सों में भारी बारिश, पांच जिलों में रेड अलर्ट

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने सोमवार के लिए 11 जिलों में येलो अलर्ट जारी किया है। गंभीर रूप से खराब मौसम की संभावना जताई गई है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्थिति से निपटने के लिए राज्य को मदद की पेशकश की है।

धिकारियों ने बताया कि कोट्टायम और इडुक्की जिलों के पर्वतीय इलाकों में शनिवार को भारी बारिश के बाद अचानक आई बाढ़ एवं भूस्खलन से लोगों की मौत हुई। इडुक्की की जिलाधिकारी शीबा जॉर्ज ने बताया कि खराब मौसम के कारण इडुक्की के पहाड़ी इलाकों में यात्रा पर प्रतिबंध है। उन्होंने बताया, ‘‘अब तक नौ शव बरामद किए गए हैं। दो लोग लापता हैं।’’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन से फोन पर बात की और बारिश के कारण उत्पन्न स्थिति पर चर्चा की।

गौरतलब है कि केरल के कई जिलों में हो रही जोरदार बारिश से जहां एक तरफ नदी नाले उफान पर हैं तो वहीं भूस्खलन ने समस्या और बढ़ा दी है। केरल में दो दिनों की बाढ़ बारिश ने दो दर्जन से ज्यादा जिंदगी लील ली है। रविवार रात तक केरल में 26 लोगों की जान चली गई है। कोट्टयम जिले में सबसे ज्यादा 13 लोगों की मौत हुई। इडुक्की में 9 और अलपुझा जिले में 4 लोगों की मौत हुई है।

केरल के कोने-कोने में आई आफत के बीच सेना, नौसेना समेत एनडीआरएफ की कई टीमें राहत और बचाव के काम में जुटी हुई हैं। लोगों को सुरक्षित ठिकानों तक पहुंचाने के साथ साथ बंद पड़े रास्तों को खोलना प्राथमिकता है। 2018 के बाढ़ में हुई तबाही को ध्यान में रखते हुए प्रशासन भी पूरी तरह अलर्ट पर है। केरल में मौसम की तल्खी को देखते हुए अगले आदेश तक पर्यटन स्थलों को भी बंद कर दिया गया है।

पढ़ें :- केरल में भारी बारिश के साथ मानसून ने मारी एंट्री, जानें आपके राज्य में कब होगी बारिश?

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...