1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. मुंबई में हो रही जबरदस्‍त बारिश, मौसम विभाग का अलर्ट जारी

मुंबई में हो रही जबरदस्‍त बारिश, मौसम विभाग का अलर्ट जारी

मॉनसून की दस्तक के बाद से अब मुंबई में जबरदस्‍त बारिश हो रही है। मूसलाधार बारिशके चलते मुंबई के कई जलमग्न हो गए है, रास्तों पर पानी भ्रे होने की वजह सेलोगों को  परेशानी का सामना करना पड़ारहा है। अधेरी, कुर्ला, सांताक्रुज समेत कई इलाकों में भारी बारिश का सिलसिला जारी है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

मुंबई: मॉनसून की दस्तक के बाद से अब मुंबई में जबरदस्‍त बारिश हो रही है। मूसलाधार बारिशके चलते मुंबई के कई जलमग्न हो गए है, रास्तों पर पानी भ्रे होने की वजह सेलोगों को  परेशानी का सामना करना पड़ारहा है। अधेरी, कुर्ला, सांताक्रुज समेत कई इलाकों में भारी बारिश का सिलसिला जारी है। ये पहली बार नहीं है, बल्कि हर साल मुंबई में मॉनसून की बारिश ऐसी मुसीबत बनती है कि कुछ ही घंटे में चमक दमक वाला शहर अस्त-व्यस्त हो जाता है।अगर देखें तो मुंबई में महज 11 दिनों में महीने भर की बारिश हो गई है।मुंबई में हल्की बारिश से ही सड़कों पर जलभराव होने के साथ घरों में पानी घुसने लगता है। मुंबईकर इसी मुसीबत से हर मॉनसून में लड़ते हैं।आपको बता दें कि दक्षिण-पश्चिम मॉनसून ने बुधवार को मुंबई में दस्तक दी है। इसके बाद से ही लगातार बरसात हो रहा है। 13-14 जून को मौसम विभाग ने भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

पढ़ें :- Delhi-NCR में बारिश ने तोड़ा 121 सालों का रिकॉर्ड, मौसम विभाग ने की ये भविष्यवाणी
Jai Ho India App Panchang

बंगाल की उत्तरी खाड़ी में एक निम्न दबाव का क्षेत्र बनने और इसकेतेज होने से बारिश की स्थिति बन रही है। महाराष्ट्र के तटवर्ती इलाकों में अगलेचार से पांच दिनों में भारी बारिश होने के आसार हैं। रायगढ़ और रत्नागिरीजिलों के लिए आज रेड अलर्ट जारी किया गया है, जबकि मुंबई और ठाणे में रविवारके लिए रेड अलर्ट है।महाराष्‍ट्र में भारी बारिश की स्थिति अभी अगलेचार-पांच दिनों तक बनी रहने वाली है। हालात को देखते हुए उन्‍होंने मुंबई और राज्‍य के अन्‍य इलाकों में लोगों को अपना ध्‍यान रखने और बहुत जरूरी काम से ही बाहर निकलने की सलाह दी है।

मुंबई में शनिवार (12 जून) और अगले सप्ताह के पहले दो दिनों(14 और 15 जून) के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी है। हालात की गंभीरता को देखते हुए बेस्ट सहित सभी नागरिक नियंत्रण कक्ष को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए गए हैं। तटरक्षक, नौसेना और एनडीआरएफ को भी स्टैंडबाय पर रहने के लिए कहा गया है, ताकि आपदा की स्थिति में वे तुरंतलोगों को मदद मुहैया करा सकें।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...