कैलाश—मानसरोवर यात्रा में इस बार सकता है हैली सर्विस का प्रयोग

helli service
कैलाश—मानसरोवर यात्रा में इस बार सकता है हैली सर्विस का प्रयोग

उत्तराखंड। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में तीन माह बाद शुरु होने वाली कैलाश—मानसरोवर यात्रा में इस साल हैली सर्विस का प्रयोग किया जा सकता है। इसके लिए विेदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने पिथौरागढ़ जिला प्रशासन और यात्रा के इस क्षेत्र में यात्रा के नोडल अधिकारी कुमाउं मंडल विकास निगम को इसकी सूचना दे दी है। उनका कहना है कि यात्रा मार्ग के कुछ हिस्से में सड़क निर्माण नही हो सका है कि ऐसे में वो दूरी श्रद्धालुओं को हेलीकाप्टर से तय करनी होगी।

आपको बता दें कि कैलास मनसरोवर यात्रा पिथौरागढ़ जिले में सत्रह हजार फुट की उंचाई तक होनी है। पिथौरागढ के जिलाधिकारी सी रविशंकर ने बताया कि विदेश मंत्रालय से उनके पास हैली सर्विस के लिए निर्देश तो आया हैं कि इस बात का जिक्र नही किया गया हैं कि हेली सेवा में आने वाले खर्च की जिम्मेदारी किसकी है।

{ यह भी पढ़ें:- सड़क निर्माण परियोजनाओं को लेकर ​नितीश और मोदी सरकार में तनातनी }

बता दें कि अभी तक मानसरोवर यात्रा में कभी भी हैली सर्विस का प्रयोग नही हुआ है। बीते वर्ष धारचूला से गुंजी तक सड़क का निर्माण शुरु हुआ था, लेकिन वो अभी पूरी तरह से तैयार नही हो सकी है। इस सड़क की लम्बाइ करीब 42 किलोमीटर है। बताया जाता है कि इस सड़क का काम ग्रिक के माध्यम से कराया जा रहा था। जिसने मई तक इसे पूरा कर देने की बात कही थे, लेकिन काम शुरू होने में देरी होने के चलते सड़क निर्माण पूरा नही हो सका।

{ यह भी पढ़ें:- भ्रष्टाचार पर योगी सरकार का सेल्फी वार }

उत्तराखंड। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में तीन माह बाद शुरु होने वाली कैलाश—मानसरोवर यात्रा में इस साल हैली सर्विस का प्रयोग किया जा सकता है। इसके लिए विेदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने पिथौरागढ़ जिला प्रशासन और यात्रा के इस क्षेत्र में यात्रा के नोडल अधिकारी कुमाउं मंडल विकास निगम को इसकी सूचना दे दी है। उनका कहना है कि यात्रा मार्ग के कुछ हिस्से में सड़क निर्माण नही हो सका है कि ऐसे में वो दूरी श्रद्धालुओं को हेलीकाप्टर से तय…
Loading...