लखनऊ: LIC एजेंट के हेल्पर की गला कसकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

murder gazipur
गाजीपुर हत्या

लखनऊ। राजधानी में हत्याओं का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है। शुक्रवार को गुडंबा में हुई शिवानी सिंह की हत्या का मामला अभी ठंडा भी नही हुआ था कि शनिवार तड़के कैसरबाग इलाके में एक बुजुर्ग को मौत के घाट उतार दिया गया। वो बीते कई वर्षों से अकेले ही रहकर एक बीमा एजेंट के हेल्पर के तौर पर काम कर रहा था। शनिवार उनका पड़ोसी किसी काम से उसके कमरे में पहुंचा तो वहां नजारा देख उसके होश उड़ गए। बुजुर्ग का शव चारपाई के बगल में पड़ा था, जबकि घर का सारा सामान बिखरा पड़ा था। बुजुर्ग के गले मे बिजली का तार लिपटा हुआ था। शनिवार तड़के हुई बुजुर्ग की हत्या से इलाके में हड़कंप मच गया। घटना की भनक पाकर तुरन्त पुलिस मौके पर पहुंची।

Helper Of Lic Agent Murdered In Lucknow :

स्थानीय लोगों के मुताबिक बुजुर्ग की हत्या लूट का विरोध करने पर हुई है। हालांकि पुलिस इस बात से इंकार कर ​रही है। वो इस घटना में किसी करीबी का हाथ होने की आशंका जता रही है। मूलरूप से नैनीताल के रहने वाले 62 वर्षीय संजय सनवाल उर्फ बबले बीते कई वर्षों से कैसरबाग के मकबुलगंज इलाके में एक ट्रस्ट के मकान में रहते थे। उनका परिवार नैनीताल में ही रहता है। बबले एक एलआईसी एजेंट के यहां हेल्पर का काम करते थे। शनिवार सुबह सात बजे उनका पड़ोसी किसी काम से उनके कमरे में पहुंचा, जहां बबलू का शव चारपाई के बगल में ही फर्श पर पड़ा था। उनके गले में बिजली का तार लिपटा हुआ था। इसके अलावा घर का सारा सामान बिखरा हुआ था। उसने तुरन्त इसकी जानकारी पुलिस को दी।

मौके पर पहुंची पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और छानबीन शुरू की। पड़ोसियों ने कमरे में बिखरे पड़े सामान को देखकर लूट के विरोध में हत्या होने की आशंका जताई है, जबकि पुलिस छानबीन के बाद लूट की घटना से इंकार किया है। उसे आशंका है कि संजय सनवाल को उनके किसी करीबी ने ही मौत के घाट उतारा है। फिलहाल मौके पर पहुंचे एसपी पश्चिम विकाश चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि हत्या का मुकदमा दर्ज कर हत्यारे की तलाश शुरु कर दी गई है, जल्द ही हत्यारों को दबोच लिया जाएगा।

लखनऊ। राजधानी में हत्याओं का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है। शुक्रवार को गुडंबा में हुई शिवानी सिंह की हत्या का मामला अभी ठंडा भी नही हुआ था कि शनिवार तड़के कैसरबाग इलाके में एक बुजुर्ग को मौत के घाट उतार दिया गया। वो बीते कई वर्षों से अकेले ही रहकर एक बीमा एजेंट के हेल्पर के तौर पर काम कर रहा था। शनिवार उनका पड़ोसी किसी काम से उसके कमरे में पहुंचा तो वहां नजारा देख उसके होश उड़ गए। बुजुर्ग का शव चारपाई के बगल में पड़ा था, जबकि घर का सारा सामान बिखरा पड़ा था। बुजुर्ग के गले मे बिजली का तार लिपटा हुआ था। शनिवार तड़के हुई बुजुर्ग की हत्या से इलाके में हड़कंप मच गया। घटना की भनक पाकर तुरन्त पुलिस मौके पर पहुंची।स्थानीय लोगों के मुताबिक बुजुर्ग की हत्या लूट का विरोध करने पर हुई है। हालांकि पुलिस इस बात से इंकार कर ​रही है। वो इस घटना में किसी करीबी का हाथ होने की आशंका जता रही है। मूलरूप से नैनीताल के रहने वाले 62 वर्षीय संजय सनवाल उर्फ बबले बीते कई वर्षों से कैसरबाग के मकबुलगंज इलाके में एक ट्रस्ट के मकान में रहते थे। उनका परिवार नैनीताल में ही रहता है। बबले एक एलआईसी एजेंट के यहां हेल्पर का काम करते थे। शनिवार सुबह सात बजे उनका पड़ोसी किसी काम से उनके कमरे में पहुंचा, जहां बबलू का शव चारपाई के बगल में ही फर्श पर पड़ा था। उनके गले में बिजली का तार लिपटा हुआ था। इसके अलावा घर का सारा सामान बिखरा हुआ था। उसने तुरन्त इसकी जानकारी पुलिस को दी।मौके पर पहुंची पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और छानबीन शुरू की। पड़ोसियों ने कमरे में बिखरे पड़े सामान को देखकर लूट के विरोध में हत्या होने की आशंका जताई है, जबकि पुलिस छानबीन के बाद लूट की घटना से इंकार किया है। उसे आशंका है कि संजय सनवाल को उनके किसी करीबी ने ही मौत के घाट उतारा है। फिलहाल मौके पर पहुंचे एसपी पश्चिम विकाश चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि हत्या का मुकदमा दर्ज कर हत्यारे की तलाश शुरु कर दी गई है, जल्द ही हत्यारों को दबोच लिया जाएगा।