हिमाचल में 74 प्रतिशत से अधिक मतदान

हिमाचल में 74 प्रतिशत से अधिक मतदान

शिमला। हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए गुरुवार की सुबह 8 बजे 68 सीटों पर शुरू हुए मतदान में 74 फीसदी से अधिक मतदाताओं ने अपनी पसंद को ईवीएम मशीनों में दर्ज करवा दिया है। जिनके मतों की गणना 18 दिसंबर को की जाएगी। यह आंकड़े पिछले विधानसभा चुनाव के मत प्रतिशत से .5 प्रतिशत अधिक हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक हिमाचल में मतदान की शुरुआत धीमी रही लेकिन दिन बढ़ने के साथ मतदाताओं में वोटिंग को लेकर क्रेज देखने को मिला। शाम छह बजे पोलिंग ​स्टेशन बंद होने तक मतदाता नजर आए।

{ यह भी पढ़ें:- राहुल गांधी 11 दिसंबर को बनाए जा सकते हैं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष }

निर्वाचन आयोग की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक हिमाचल प्रदेश में वोटिंग शांतिपूर्ण तरीके से पूरी कर ली गई है। कुछ जगहों पर ईवीएम और वीवीपैट मशीन में गड़बड़ी की शिकायत मिली थी। जिसे दूर करने के लिए दूसरी मशीनें पहुंचने की वजह से पोलिंग कुछ देर से शुरू हो पाई। हिमाचल की जनता ने मतदान में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।

मतदान खत्म होने के बाद प्रदेश के कार्यवाहक मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि उन्हें पूरा भरोसा है, अगली सरकार भी कांग्रेस की ही होगी। कांग्रेस पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में वापसी करेगी।

{ यह भी पढ़ें:- कोई नहीं है टक्कर में, आज भी देश के सबसे लोकप्रिय नेता मोदी }

वहीं भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल ने प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा कि भाजपा हिमाचल में मिशन 50 लेकर मैदान में उतरी थी। जिस तरह की खबरें उन्हें मिल रहीं हैं, उनके मुताबिक भाजपा 60 सीटों के साथ हिमाचल में सरकार बना रही है।

आपको बता दें कि हिमाचल प्रदेश का विधानसभा चुनाव ऐसा पहला चुनाव होगा जिसके लिए ईवीएम मशीन के साथ वीवीपैट का भी प्रयोग किया जा रहा है। ईवीएम के प्रयोग को तकनीकि रूप से चुनौती मिलने के बाद निर्वाचन आयोग ने हर बूथ पर ईवीएम के साथ वीवीपैट मशीन जोड़ने का फैसला किया था। वीवीपैट से निकलने वाली पर्ची की मदद से हर मतदाता यह सुनिश्चित कर सकेगा कि उसका दिया वोट उसकी पसंद के उम्मीदवार को ही गया है।

{ यह भी पढ़ें:- चित्रकूट उपचुनाव परिणाम: कांग्रेस के निलांशु चतुर्वेदी 14,333 मतों से जीते }

Loading...