हिमांचल के नूरपुर में स्कूल बस खाई में गिरी, 27 बच्चों की मौत 10 घायल

हिमांचल प्रदेश , नूरपुर
हिमांचल के नूरपुर में स्कूल बस खाई में गिरी, 27 बच्चों की मौत 10 घायल

कांगड़ा। हिमाचल प्रदेश में कांगड़ा जिले के नूरपुर के नजदीकी गांव चेली में एक निजी स्कूल बस अचानक संतुलन खो बैठी और करीब 400 फीट गहरी खाई में जा गिरी। जिसमें 27 बच्चों समेत चालक व दो शिक्षकों की मौत हो गई, जबकि दस बच्चे घायल हैं। हादसे में मौत का शिकार हुए अधिकतर बच्चे 5 से 12 साल तक की आयु के थे जिनमें से कुछ बच्चे ऐसे भी थे जो पहली बार स्कूल गए थे।

Himachal Pradesh School Bus Fell Into A Deep Gorge In Kangras Nurpur :

हादसे की जानकारी मिलते ही एनडीआरएफ की टीम घटनास्थल पर पहुंच चुकी है। राहत और बचाव कार्य जारी है, ऐसा बताया जा रहा है कि जिस वक्त बस स्कूल से बच्चों को घर छोड़ने के लिए जा रही थी उसी वक्त ये हादसा हुआ। शुरुआती जानकारी में पता चला है कि बस की स्पीड काफी ज्यादा थी, जिसकी वजह से वह अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा गिरी।

सीएम ने दिया जांच का आदेश

हादसे के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने ट्वीट करते हुए कहा नूरपुर के मलकवाल में स्कूली बस के हादसे का अत्यंत दुखद समाचार प्राप्त हुआ। इस हादसे का हम सभी को गहरा शोक है और मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करता हूं। दुख की इस घड़ी में सरकार सभी प्रभावित परिवारों के साथ है। सभी उपचाराधीन घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। प्रशासन हर संभव मदद के लिए जुटा है और पूरे मामले की जांच का आदेश जारी कर दिया है।

बजीर राम सिंह पठानिया मेमोरियल स्कूल की बस चेली गांव में 200 फुट गहरी खाई गिर गई। हादसे में घायल हुए बच्चों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां कुछ बच्चों की हालत गंभीर है वहीं अन्य की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

कांगड़ा। हिमाचल प्रदेश में कांगड़ा जिले के नूरपुर के नजदीकी गांव चेली में एक निजी स्कूल बस अचानक संतुलन खो बैठी और करीब 400 फीट गहरी खाई में जा गिरी। जिसमें 27 बच्चों समेत चालक व दो शिक्षकों की मौत हो गई, जबकि दस बच्चे घायल हैं। हादसे में मौत का शिकार हुए अधिकतर बच्चे 5 से 12 साल तक की आयु के थे जिनमें से कुछ बच्चे ऐसे भी थे जो पहली बार स्कूल गए थे।हादसे की जानकारी मिलते ही एनडीआरएफ की टीम घटनास्थल पर पहुंच चुकी है। राहत और बचाव कार्य जारी है, ऐसा बताया जा रहा है कि जिस वक्त बस स्कूल से बच्चों को घर छोड़ने के लिए जा रही थी उसी वक्त ये हादसा हुआ। शुरुआती जानकारी में पता चला है कि बस की स्पीड काफी ज्यादा थी, जिसकी वजह से वह अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा गिरी।सीएम ने दिया जांच का आदेशहादसे के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने ट्वीट करते हुए कहा नूरपुर के मलकवाल में स्कूली बस के हादसे का अत्यंत दुखद समाचार प्राप्त हुआ। इस हादसे का हम सभी को गहरा शोक है और मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करता हूं। दुख की इस घड़ी में सरकार सभी प्रभावित परिवारों के साथ है। सभी उपचाराधीन घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। प्रशासन हर संभव मदद के लिए जुटा है और पूरे मामले की जांच का आदेश जारी कर दिया है।बजीर राम सिंह पठानिया मेमोरियल स्कूल की बस चेली गांव में 200 फुट गहरी खाई गिर गई। हादसे में घायल हुए बच्चों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां कुछ बच्चों की हालत गंभीर है वहीं अन्य की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।