पाकिस्तान: हॉस्टल में मिला हिंदू छात्रा का शव, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

chadani
पाकिस्तान: हॉस्टल में मिला हिंदू छात्रा का शव, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

नई दिल्ली। पाकिस्तान में हिंदू लड़कियों पर अत्याचार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। अब पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक हिंदू लड़की की हत्या की खबर आई है। ऐसा माना जा रहा है कि यह हत्या जबरन धर्म परिवर्तन की वजह से हुई है।

Hindu Girl Found Dead At Pakistans Larkana Dental College :

मृतक छात्रा का नाम नमृता चंदानी था और वह घोटकी के ही मीरपुर मथेलो की रहने वाली थी। पुलिस का कहना है कि शुरुआत में ही यह कहना मुश्किल है कि यह आत्महत्या है या कत्ल लेकिन नमृता के भाई डॉ विशाल सुंदर ने दावा किया है यह आत्महत्या नहीं मर्डर है।

हालांकि ट्विटर पर इस पूरे मामले को जबरन धर्मांतरण और अल्पसंख्यक उत्पीड़न की घटनाओं से भी जोड़ा जा रहा है। नम्रिता के भाई डॉ. विशाल सुंदर ने भी इस मामले को एक तरह से अल्पसंख्यक उत्पीड़न करार दिया है। उन्होंने कहा, ‘उसकी शव पर कई जगहों पर चोट के निशान हैं। ऐसा लगता है कि जैसे किसी ने उसे पकड़ रखा था। हम अल्पसंख्यक हैं और प्लीज हमारी मदद के लिए खड़े हों।’

लरकाना डीआईजी इरफान अली बलूच ने एसएसपी मसूद अहमद बंगश को घटना की जांच के आदेश दिए है। वहीं डेंटल कॉलेज के कुलपति, डॉ अनिला अताउर रहमान ने कहा,’पहली नजर में यह घटना आत्महत्या लग रही है, लेकिन पुलिस और मेडिको-लीगल पोस्टमॉर्टम के बाद मौत के वास्तविक कारण का पता लगाने में सक्षम होगी।

बता दें कि कुछ दिन पहले ही सिंध का घोटकी इलाका हिंदुओं पर होने वाले अत्याचार के मामले में सुर्खियों में था। 15 सितंबर घोटकी में ही एक हिंदू मंदिर और स्कूल में तोड़फोड़ हुई थी।

नई दिल्ली। पाकिस्तान में हिंदू लड़कियों पर अत्याचार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। अब पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक हिंदू लड़की की हत्या की खबर आई है। ऐसा माना जा रहा है कि यह हत्या जबरन धर्म परिवर्तन की वजह से हुई है। मृतक छात्रा का नाम नमृता चंदानी था और वह घोटकी के ही मीरपुर मथेलो की रहने वाली थी। पुलिस का कहना है कि शुरुआत में ही यह कहना मुश्किल है कि यह आत्महत्या है या कत्ल लेकिन नमृता के भाई डॉ विशाल सुंदर ने दावा किया है यह आत्महत्या नहीं मर्डर है। हालांकि ट्विटर पर इस पूरे मामले को जबरन धर्मांतरण और अल्पसंख्यक उत्पीड़न की घटनाओं से भी जोड़ा जा रहा है। नम्रिता के भाई डॉ. विशाल सुंदर ने भी इस मामले को एक तरह से अल्पसंख्यक उत्पीड़न करार दिया है। उन्होंने कहा, 'उसकी शव पर कई जगहों पर चोट के निशान हैं। ऐसा लगता है कि जैसे किसी ने उसे पकड़ रखा था। हम अल्पसंख्यक हैं और प्लीज हमारी मदद के लिए खड़े हों।' लरकाना डीआईजी इरफान अली बलूच ने एसएसपी मसूद अहमद बंगश को घटना की जांच के आदेश दिए है। वहीं डेंटल कॉलेज के कुलपति, डॉ अनिला अताउर रहमान ने कहा,'पहली नजर में यह घटना आत्महत्या लग रही है, लेकिन पुलिस और मेडिको-लीगल पोस्टमॉर्टम के बाद मौत के वास्तविक कारण का पता लगाने में सक्षम होगी। बता दें कि कुछ दिन पहले ही सिंध का घोटकी इलाका हिंदुओं पर होने वाले अत्याचार के मामले में सुर्खियों में था। 15 सितंबर घोटकी में ही एक हिंदू मंदिर और स्कूल में तोड़फोड़ हुई थी।