1. हिन्दी समाचार
  2. पाक में नहीं थम रहा हिंदू लड़कियों का उत्पीड़न, जबरन धर्म परिवर्तन कर निकाह का आया नया मामला

पाक में नहीं थम रहा हिंदू लड़कियों का उत्पीड़न, जबरन धर्म परिवर्तन कर निकाह का आया नया मामला

Hindu Girls Are Not Stopping Harassment In Pakistan Forced Marriage New Case Of Marriage

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू लड़कियों का अपहरण कर जबरन धर्म परिवर्तन की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामला हिंदू समुदाय से संबंध रखने वाली नाबालिग लड़की महक से जुड़ा है, जिसका 15 जनवरी को सिंध प्रांत के जैकोबाबाद जिले से अपहरण कर लिया गया। उधर, विदेश मंत्रालय ने इन मामलों को गंभीरता से लेते हुए कड़ा विरोध जताया है और पाकिस्तानी उच्चायोग में तैनात वरिष्ठ राजनयिक को तलब किया।

पढ़ें :- हरी मिर्च खाने के गज़ब फायदे, वजन कम करने के साथ साथ दूर करता है गंभीर समस्या...

मीडिया द्वारा कोई कवरेज न मिलने पर अल्पसंख्यक समुदाय अब इस तरह के मामलों को सोशल मीडिया के जरिए सामने लाने में जुट गया है। पाकिस्तान के अल्पसंख्यक समुदाय ने फेसबुक पर ‘पाकिस्तानी हिंदूज यूथ फोरम’ नाम से एक पेज बनाया हुआ है। इस पेज पर 30,702 लाइक्स भी हैं। अब इस पेज की मदद से ही अभियान छेड़ा गया है, जिसमें पाकिस्तान के उदारवादी लोगों से महक का साथ देने की अपील की गई है।

इस पेज पर शनिवार की शाम एक पोस्ट की गई, जिसमें लिखा गया, “पाकिस्तानी हिंदुओं के साथ इस तरह की बर्बरता की जा रही है। नौवीं कक्षा में पढ़ने वाली 14 वर्षीय महक कुमारी का कुछ दिनों पहले अपहरण कर लिया गया था। अब वह अमरोत शरीफ में मुल्लाओं के साथ दिखाई देती है और वे दावा कर रहे हैं कि उसे अली रजा सोलंगी से प्यार हो गया है।”

पोस्ट में आगे कहा गया, “सोलंगी पहले से शादीशुदा है और उसका एक बच्चा भी है। वह एक श्रमिक के तौर पर काम करता है। अब वह लड़की इस्लाम में परिवर्तित कर दी गई है। अब कृपया यह बताएं कि 14 साल की लड़की, जो एक व्यवसायी की बेटी है, वह एक अनपढ़ व श्रमिक के प्यार में कैसे पड़ सकती है? वह पहले से शादीशुदा व्यक्ति के लिए अपने घर और धर्म को कैसे छोड़ने के लिए तैयार हुई?”

इसके बाद पोस्ट में कहा गया कि इस तरह के मामले बार-बार हो रहे हैं, मगर इनका कोई समाधान नहीं है। यही नहीं, इस पेज पर शनिवार की सुबह एक और पोस्ट की गई, जिसमें पिछले कुछ महीनों के दौरान अल्पसंख्यक लड़कियों के अपहरण व धर्मांतरण से जुड़ी सूची अपलोड की गई। इस सूची में इस तरह की कुल 50 पीड़िताओं के नाम बताए गए हैं। सूची में महक का नाम 50वीं पीड़िता के तौर पर दर्शाया गया है।

पढ़ें :- जब शख्स ने फेका फेस मास्क, चोंच में उठा चिड़िया करने लगी कुछ ऐसा... VIDEO

पाकिस्तान में केवल एक यही पेज नहीं है, जो इन मुद्दों को उठा रहा है। बल्कि ‘सिंधी हिंदू स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ पाकिस्तान’ नामक पेज भी लगातार महक व अन्य मामलों को मुख्यधारा में लाने की कोशिशों में लगा हुआ है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...