लखनऊ में मार्निंग वॉक पर निकले हिंदू महासभा के नेता रणजीत बच्चन की हत्या

Ranjeet bachchan
रणजीत बच्चन हत्याकांड: कथित पत्नी ने भाड़े के शूटरों से कराई हत्या, चार गिरफ्तार

लखनऊ। अ. भ. हिंदू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष रणजीत बच्चन की हजरतंगज में गोली मारकर हत्या कर दी गयी। रणजीत उस वक्त अपने करीबी के साथ मार्निंग वॉक पर निकले थे। तभी बाइक सवार बदमाशों ने उनके सिर में गोली मार दी। गोली लगते ही उनकी मौत हो गयी जबकि घटना में उनका करीबी भी घायल हुआ है। सूचना पर पंहुची पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है वहीं ​हिन्दू नेताओं में इस घटना से आक्रोश है।

Hindu Mahasabha Leader Ranjit Bachchan Killed On Morning Walk In Lucknow :

बताया गया कि मूल रूप से गोरखपुर के रहने वाले रणजीत बच्चन वर्तमान समय में वह हजरतगंज के ओसीआर बिल्डिंग में रहते थे। बताया जा रहा कि वह समाजवादी पार्टी के सांस्कृतिक कार्यक्रमो में भी हिस्सा लेते थे। रविवार सुबह 6 बजे के लगभग वह अपने करीबी आशीष के साथ मॉर्निंग वॉक पर निकले थे। वह हजरतगंज स्थित ग्लोब पार्क के पास पंहुचे थे तभी बाईक से आये बदमाशों ने उनपर गोली चला दी। गोली उनके सिर में लगी थी इसलिए उनकी मौके पर ही मौत हो गयी जबकि करीबी को ट्रामा सेंटर में भर्ती करवाया गया।

आपको बता दें कि बीते दिनो राजधानी में हिंदू नेता कमलेश तिवारी की घर में घुसकर हत्या कर दी गयी थी जिसके बाद से ही लगातार हिंदू नेताओं में आक्रोश था, ऐसे में रणजीत की हत्या होने से ​हिंदू नेता काफी नाराज दिख रहे हैं। हालांकि योगी सरकार ने राजधानी की कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए कमिश्नरी सिस्टम भी लागू किया है लेकिन एकबार फिर बदमाशों ने पुलिस को चैंलेंज दिया है। रविवार को जैसे ही घटना की जानकारी मिली तो कमिश्नर समेत कई आला अधिकारी मौके पर पंहुचे और छानबीन जारी है।

लखनऊ। अ. भ. हिंदू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष रणजीत बच्चन की हजरतंगज में गोली मारकर हत्या कर दी गयी। रणजीत उस वक्त अपने करीबी के साथ मार्निंग वॉक पर निकले थे। तभी बाइक सवार बदमाशों ने उनके सिर में गोली मार दी। गोली लगते ही उनकी मौत हो गयी जबकि घटना में उनका करीबी भी घायल हुआ है। सूचना पर पंहुची पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है वहीं ​हिन्दू नेताओं में इस घटना से आक्रोश है। बताया गया कि मूल रूप से गोरखपुर के रहने वाले रणजीत बच्चन वर्तमान समय में वह हजरतगंज के ओसीआर बिल्डिंग में रहते थे। बताया जा रहा कि वह समाजवादी पार्टी के सांस्कृतिक कार्यक्रमो में भी हिस्सा लेते थे। रविवार सुबह 6 बजे के लगभग वह अपने करीबी आशीष के साथ मॉर्निंग वॉक पर निकले थे। वह हजरतगंज स्थित ग्लोब पार्क के पास पंहुचे थे तभी बाईक से आये बदमाशों ने उनपर गोली चला दी। गोली उनके सिर में लगी थी इसलिए उनकी मौके पर ही मौत हो गयी जबकि करीबी को ट्रामा सेंटर में भर्ती करवाया गया। आपको बता दें कि बीते दिनो राजधानी में हिंदू नेता कमलेश तिवारी की घर में घुसकर हत्या कर दी गयी थी जिसके बाद से ही लगातार हिंदू नेताओं में आक्रोश था, ऐसे में रणजीत की हत्या होने से ​हिंदू नेता काफी नाराज दिख रहे हैं। हालांकि योगी सरकार ने राजधानी की कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए कमिश्नरी सिस्टम भी लागू किया है लेकिन एकबार फिर बदमाशों ने पुलिस को चैंलेंज दिया है। रविवार को जैसे ही घटना की जानकारी मिली तो कमिश्नर समेत कई आला अधिकारी मौके पर पंहुचे और छानबीन जारी है।