बिसाहड़ा पहुंची अल्पसंख्यक आयोग की टीम, ग्रामीणों ने कहा- हम करेंगे अखलाक के परिवार की हिफाजत

 लखनऊ। यूपी के दादरी कांड मामले को लेकर बिसहड़ा गाँव पहुंची राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग की टीम ने बृहस्पतिवार को गांव का जायजा लिया। टीम ने अखलाक के परिजनों से मिलने के साथ ही गांव के बहुसंख्यक वर्ग के लोगों के साथ बैठक की। इस बैठक के दौरान ग्रामीणों ने  अखलाक के परिवार की हिफाजत की पूरी जिम्मेदारी लेने की बात कही। ग्रामीणों ने कहा कि हम इस परिवार को गाँव से नहीं जाने देंगे। 

Hindus Said We Will Protect The Family Of Ikhlakh :

आयोग की टीम के आने से पहले ही अखलाक के भाई, मां असगरी व बेटी शाहिस्ता अपने घर पहुंच गई थीं। दोपहर बारह बजे राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष नसीम अहमद, टीएन शहानू व अब्दुल खान के साथ और जिलाधिकारी एनपी सिंह, एसएसपी किरन एस अखलाक के घर पहुंचे।

आयोग ने अखलाक की मां असगरी व उसकी बेटी शाहिस्ता से बातचीत भी की। आयोग की टीम ने बिसाहड़ा गांव के प्रधान संजीव राणा समेत गांव के हिन्दू समाज के साथ बैठक की। बैठक में एचसी शर्मा, राजेंद्र आदि ने कहा कि जो घटना घटी उससे गांव में भाईचारे पर कलंक लगा है, लेकिन अब पहले की तरह आपसी प्रेम व भाईचारा कायम हो रहा है।

 लखनऊ। यूपी के दादरी कांड मामले को लेकर बिसहड़ा गाँव पहुंची राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग की टीम ने बृहस्पतिवार को गांव का जायजा लिया। टीम ने अखलाक के परिजनों से मिलने के साथ ही गांव के बहुसंख्यक वर्ग के लोगों के साथ बैठक की। इस बैठक के दौरान ग्रामीणों ने  अखलाक के परिवार की हिफाजत की पूरी जिम्मेदारी लेने की बात कही। ग्रामीणों ने कहा कि हम इस परिवार को गाँव से नहीं जाने देंगे। 

आयोग की टीम के आने से पहले ही अखलाक के भाई, मां असगरी व बेटी शाहिस्ता अपने घर पहुंच गई थीं। दोपहर बारह बजे राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष नसीम अहमद, टीएन शहानू व अब्दुल खान के साथ और जिलाधिकारी एनपी सिंह, एसएसपी किरन एस अखलाक के घर पहुंचे।

आयोग ने अखलाक की मां असगरी व उसकी बेटी शाहिस्ता से बातचीत भी की। आयोग की टीम ने बिसाहड़ा गांव के प्रधान संजीव राणा समेत गांव के हिन्दू समाज के साथ बैठक की। बैठक में एचसी शर्मा, राजेंद्र आदि ने कहा कि जो घटना घटी उससे गांव में भाईचारे पर कलंक लगा है, लेकिन अब पहले की तरह आपसी प्रेम व भाईचारा कायम हो रहा है।