1. हिन्दी समाचार
  2. Murder:हिस्ट्रीशीटर की पत्नी की गोली मारकर हत्या, पति पर शक

Murder:हिस्ट्रीशीटर की पत्नी की गोली मारकर हत्या, पति पर शक

Historysheeter Wife Murdered In Lucknow

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

लखनऊ।उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के चिनहट के मटियारी गांव में बुधवार को कोतवाली के हिस्ट्रीशीटर विमल यादव की पत्नी की गोली लगने से मौत हो गयी। विवाहिता की दाहिनी कनपटी पर गोली लगी थी। शव के पास एक अवैध पिस्टल पड़ी थी। विवाहिता के मायके वालों ने पति पर बेटी की गोली मारकर हत्या करने का आरोप लगाया है। फिलहाल पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर और उसकी मां को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है।

पढ़ें :- विकास भवन द्वारा कराए जा रहे विकास कार्यों को सीडीओ ने पत्रकारों से किया साझा

चिनहट के मटियारी गांव में हिस्ट्रीशीटर विमल यादव अपनी मां कलावती देवी और छोटे भाई रवि यादव के साथ रहता है। उसकी फरवरी माह में चौक की रहने वाले प्रेमशंकर की बेटी 29 वर्षीय जूली यादव के साथ शादी हुई थी। बताया जाता है कि बुधवार शाम करीब साढ़े तीन बजे विमल उसकी मां कलावती व पत्नी जूली घर पर थे।

इस बीच जूली का मकान की पहली मंजिल पर बने कमरे में संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लग गयी। गोली जूली की दाहिनी कनपटी पर लगी। गोली चलने की आवाज सुनकर कलावती और आसपास के लोग दौड़कर कमरे में पहुंचे तो देखा कि जूली का खून से लथपथ शव फर्श पर पड़ा था।

उसके शव के पास एक अवैध पिस्टल भी पड़ी थी। घटना की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी गयी। मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन करते हुए खबर जूली के मायके वालों को दी। पुलिस ने छानबीन के लिए फारेंसिक टीम को भी बुला लिया। फारेंसिक टीम ने मौके पर पहुंच कर छानबीन की और फिर पुलिस ने पिस्टल को अपने कब्जे में ले लिया।

पुलिस ने विमल और उसकी मां को हिरासत में लिया
जूली की मौत की खबर मिलते ही उसके मायके वाले भी मौके पर पहुंच गये। उन लोगों ने जूली की मौत को हत्या बताया। वहीं पुलिस का कहना है कि ऐसा लग रहा है कि जूली ने आत्महत्या की है। फिलहाल पुलिस ने शके आधार पर विमल और उसके मां कलावती को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। पुलिस ने छानबीन के बाद जूली के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पढ़ें :- विश्व एड्स दिवस पर हुआ विशेष आयोजन

हत्या के मामले मेें विमला जा चुका है जेल
विमल यादव के पिता वीरेन्द्र यादव की वर्ष 2007 में चिनहट इलाके में वर्चस्व को लेकर हत्या कर दी गयी थी। इस घटना को चंदन यादव ने अंजाम दिया था। घटना के करीब 21 माह बाद वर्ष 2009 में विमल ने चंदन यादव की हत्या कर दी थी। इस मामले में वो जेल गया था। पुलिस का कहना है कि विमल के के खिलाफ चिनहट कोतवाली में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं।

तीन दिन पहले मायके से लौटी थी जूली
जूली की मौत के मामले में विमल का कहना है कि उसने खुद गोली मारकर आत्महत्या कर ली। उसका दावा है कि घटना के वक्त वह घर के बाहर मोहल्ले में था। गोली चलने की बात पता चलने पर वह दौड़कर घर पहुंचा तो पत्नी का शव मिला। विमल का यह भी कहना है कि जूली खुद ही कहीं से पिस्टल लेकर आयी थी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...