1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. Holi 2020: इस होली लें ठंडाई का मजा, जानें गर्मियों में इसे पीने के क्या होंगे फायदे

Holi 2020: इस होली लें ठंडाई का मजा, जानें गर्मियों में इसे पीने के क्या होंगे फायदे

By आस्था सिंह 
Updated Date

लखनऊ। रंगों का त्योहार होली कुछ ही दिनों में दस्तक देने वाली है। इस खास मौके पर दोस्त यार और परिवार वाले इकठ्ठे हो कर एक दूसरे को गुलाल लगा कर ठंडाई का मजा लेते हैं। वैसे तो ठंडाई के बिना होली बिल्कुल अधूरी मानी जाती है, हांलाकि बहुत से लोग ठंडाई में भांग मिला कर पीना पसंद करते हैं, लेकिन अगर इसे हेल्दी तरीके से बना कर पिया जाए तो शरीर को कई लाभ पहुंचते हैं। माना जाता है कि गर्मियों में तो ठंडाई पेट के लिये अमृत समान मानी जाती है। इसमें यदि बादाम, खस-खस, काली मिर्च, इलायची, गुलकंद, केसर और सौंफ का उपयोग किया जाए तो यह शरीर को शक्ति प्रदान करती है। आइये जानते हैं स्वास्थ्य लाभ के लिहाज से ठंडाई कितनी फायदेमंद है…

कब्ज करे कंट्रोल

  • ठंडाई बनाने के लिये खसखस की आवश्यहकता पड़ती है, जो गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल जलन से राहत दिलाने में मदद करता है और कब्ज से भी बचाता है।
  • खसखस प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, वसा और मिनरल्स के साथ-साथ इम्यूान सिस्टीम को भी मजबूत करता है।

पेट फूलने की समस्या से छुटकारा

  • खसखस में प्रयोग की गई सौंफ गर्मियों में न केवल शरीर को ठंडक पहुंचाते हैं बल्कि पेट फूलने की भी समस्या को ठीक करते हैं।
  • सौंफ के बीज पाचन तंत्र के लिए भी अच्छे होते हैं।

पाचन में सुधार

  • ठंडाई में गुलाब की पंखुड़ियां होती हैं जो शरीर को सौंफ के साथ-साथ ठंडा करने में मदद करती हैं।
  • स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, इन दोनों का मिश्रण शरीर के पाचन क्रिया को बेहतर बनाता है।
  • ठंडाई में कई तत्व होते हैं जो आपको गर्मियों में सूरज से सुरक्षित रख सकते हैं।
  • ठंडाई में बादाम और पिस्ता जैसे नट्स शामिल होते हैं जो पेट को लंबे समय तक भरा रखते हैं।इम्यूेनिटी बढाए

ठंडाई में मौजूद दालचीनी, पेपरकॉर्न और लौंग जैसे मसाले मिले हुए होते हैं जो गर्मियों के दौरान इम्यूौनिटी को बढ़ाने में मदद करते हैं।

इंफेक्श न से लड़े

सामान्य तौर पर ठंडाई में मिश्री डाली जाती है जो न केवल पेय को मीठा बनाती है, बल्कि गर्मी के मौसम में खांसी, सर्दी और गले के संक्रमण को रोकती भी है और ठीक करती है।

शरीर को करे अंदर से साफ

  • इलायची का उपयोग ठंडाई को एक प्रभावी प्राकृतिक डिटॉक्सीकफायर बनाता है।
  • यह संक्रमण से लड़ने में मदद करती है, शरीर को अंदर से साफ करती है और विशेष रूप से मतली और उल्टी के लिए काफी अच्छीी मानी जाती है।

एसिडिटी से लड़े

  • ठंडाई को गुलकंद डाल कर बनाया जाए तो एसिडिटी की समस्याह दूर होती है।
  • गुलकंद में मौजूद पोषक तत्व आपको कब्ज, एसिडिटी जैसी समस्याओं से भी राहत पहुंचाते हैं।
  • अगर आपको इससे संबंधित कोई समस्या है तो गुलकंद की ठंडाई को अपनी डाइट में शामिल करें।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...