1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. Holi 2020: होली के हैं कई रंग, जानते हैं भारत के अलग-अलग हिस्सों में होली की खासियत

Holi 2020: होली के हैं कई रंग, जानते हैं भारत के अलग-अलग हिस्सों में होली की खासियत

By आस्था सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। रंगों का त्योहार होली का हिन्दू धर्म में बहुत महत्त्व है। उत्तर भारत में इस दिन लोग एक दूसरे को रंग लगाकर गले मिलते हैं। हांलाकि कुछ लोगों का शौक अलग-अलग जगहों के त्योहारों को देखने का होता है, जैसे मथुरा और वृंदावन की होली पूरे देश में बल्कि विदेशों में भी मशहूर है। ऐसे ही दक्षिण भारत की भी कुछ जगहों पर शानदार होली खेली जाती है। आइए जानते हैं भारत के अलग-अलग हिस्सों में होली की खासियत…

मणिपुर में भी होली शानदार तरीके मनाई जाती है।
अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए मशहूर मणिपुर में योसंग त्योहार और होली का उत्सव यहां 6 दिन तक चलता है।
इस दौरान खाने-पीने के पारंपरिक स्वाद का जायका आप ले सकते हैं।
वो अलग बात है होली यहां का पारंपरिक त्योहार नहीं है लेकिन इसे बेहद शानदार तरीके से मनाया जाता है।

असम में होली को डोल जात्रा के रूप में जाना जाता है। यहां उत्तर भारत कि तरह दो दिनों तक होली मनाई जाती है। पहले दिन लोग होली मिट्टी की झोपड़ी जलाते हैं, जैसे उत्तर भारत में होलिका दहन होता है।दूसरे दिन रंगों और पानी से होली खेली जाती है।

होली मनाने के लिए बेस्ट डेस्टिनेशन कर्नाटक है।
अपनी संपन्न संस्कृति और शांति के लिए मशहूर कर्नाटक खासकर हंपी की होली का अनुभव आप कभी भूल नहीं पाएंगे।
तेज म्यूजिक, ढोल नगाड़ों और ढ़ेर सारे रंगों वाली होली देखने लायक होती है।

केरल अपनी शानदार सभ्यता के लिए जाना जाता है लेकिन रंगों का त्योहार होली यहां उतनी ही धूम के साथ मनाया जाता है।
जो लोग होली में कुछ हटकर अनुभव करना चाहते हैं उनके लिए केरल में होली मनाना यादगार रहेगा।
होली को यहां मंजुल कुली और उक्कुली के रूप में जाना जाता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...