1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. गृह मंत्रालय ने ऑक्सीजन सप्लाई का दिया आदेश, गंभीर मरीजों को मिलेगी ‘नई जिंदगी’

गृह मंत्रालय ने ऑक्सीजन सप्लाई का दिया आदेश, गंभीर मरीजों को मिलेगी ‘नई जिंदगी’

केंद्र सरकार देश में कोरोना से संक्रमित मरीजों के लिए मेडिकल आक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए गुरुवार को बड़ा कदम उठाया है। इसके साथ ही सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से कहा कि मेडिकल आक्सीजन के कंटेनरों के आवागमन पर किसी भी तरह की पाबंदी नहीं लगायी जायेगी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली । केंद्र सरकार देश में कोरोना से संक्रमित मरीजों के लिए मेडिकल आक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए गुरुवार को बड़ा कदम उठाया है। इसके साथ ही सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से कहा कि मेडिकल आक्सीजन के कंटेनरों के आवागमन पर किसी भी तरह की पाबंदी नहीं लगायी जायेगी।

पढ़ें :- Karnataka News : लड़कियों का वीडियो बनाते पकड़ा गया छात्र, पुलिस ने दर्ज किया मामला

केन्द्रीय गृह सचिव ने सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर कहा है कि आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत हासिल अधिकारों के तहत सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों को यह निर्देश दिया जाता है कि वे आक्सीजन ले जाने वाले वाहनों पर किसी भी तरह की पाबंदी नहीं लगा सकते। राज्य सरकारों से कहा गया है कि उनके परिवहन प्राधिकारण आक्सीजन आपूर्ति करने वाले वाहनों पर किसी तरह की पाबंदी नहीं लगा सकते।

साथ ही राज्य सरकार उनके यहां आक्सजीन का उत्पादन वाली कंपनियों पर यह पाबंदी भी नहीं लगा सकती कि वहां बनने वाली आक्सीजन दूसरे राज्य को नहीं दी जा सकती। कोई भी कंपनी उस राज्य में कहीं भी और दूसरे राज्य में कहीं भी ऑक्सीजन आपूर्ति करने के लिए स्वतंत्र है। औद्योगिकी इस्तेमाल के लिए ऑक्सीजन के इस्तेमाल पर पहले ही पाबंदी है और केवल नौ उद्योगों को ही आक्सीजन के इस्तेमाल में छूट दी गयी है।

केन्द्रीय गृह सचिव ने कहा है कि जिला मजिस्ट्रेट , उप आयुक्त और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक , पुलिस अधीक्षक तथा पुलिस उपायुक्त की जिम्मेदारी है कि वे इन निर्देशों पर अमल सुनिश्चित करें। कुछ राज्यों द्वारा दूसरे देश में आक्सजीन के आवागमन पर पाबंदी लगाये जाने की खबरों के बाद यह कदम उठाया गया है।

पढ़ें :- राहुल बोले- गुलामी के दौर में हम फिर लौटे, पहले एक ईस्ट इंडिया कंपनी ने देश पर राज किया, अब 3-4 कंपनियां कर रही हैं ये काम
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...