आखिरकार पुलिस की सख्ती के आगे हनीप्रीत ने टेक दिये घुटने, उगले कई राज

नई दिल्ली। राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसा ने आखिरकार पुलिस की सख्ती के सामने घुटने टेक ही दिये। सूत्रों ने मुताबिक हनीप्रीत ने ये मान लिया है कि वो राम रहीम को सजा सुनाए जानवाले दिन पंचकूला में हुई हिंसा की साजिश में शामिल थी।

बताते चले कि राम रहीम के सज़ा के बाद पंचकूला में जबरजस्त हिंसा भड़की थी जिसमें 36 लोगों ने जान गवाई वहीं, करोड़ों की सरकारी संपत्तियाँ जलकर खाक हो गयी। हनीप्रीत की रिमांड मांगते वक्त पुलिस ने कोर्ट में कहा था कि उसे हनीप्रीत से एक लैपटॉप रिकवर करना है जिसमें एक नक्शा है। नक्शे में पंचकूला शहर का पूरा मैप, भागने की प्लानिंग सब था।

दोबारा मिली है रिमांड

हनीप्रीत की गिरफ्तारी के बाद पंचकूला कोर्ट से पुलिस को हनीप्रीत की छह दिन की रिमांड मिली थी। इस दौरान पुलिस उसे पूछताछ के लिए कई ठिकानों पर ले गई। पुलिस जानना चाहती थी कि हनीप्रीत जब फरार थी तब कहां कहां रुकी और किसने उसकी मदद की। रिमांड पूरी होने तक पुलिस उससे कुछ खान नहीं जान पायी। पुलिस ने उसे रिमांड खत्म होने के बाद कोर्ट में पेश किया और दोबारा रिमांड की मांग की। कोर्ट ने पुलिस को तीन दिन की और रिमांड दी।

{ यह भी पढ़ें:- हनीप्रीत एक नाम अनेक, जाने क्या है नाम का रहस्य... }

जेल में राम रहीम से सीबीआई ने की पूछताछ
रोहतक के सुनारिया जेल में बंद राम रहीम से सीबीआई ने जेल में ही तीन घंटे तक पूछताछ की है। ये पूछताछ कल की गई। राम रहीम से डेरे के साधुओं को नपुंसक बनाने के मामले में सवाल जवाब किए गए। राम रहीम ने आरोपों से इंकार किया है। अब सीबीआई सामने आए एक साधु का बयान कोर्ट में दर्ज कराएगी, ताकि बाद में वो पलट ना जाए। सीबीआई राम रहीम के कुछ और सहयोगियों और डेरे के कुछ डाक्टरों से भी पूछताछ करेगी।

{ यह भी पढ़ें:- पुलिस के सामने बिलखती रही हनीप्रीत, सिर हिलाकर ना में ही देती रही जवाब }