मकान में लगी भीषण आग, एक ही परिवार के चार लोग जिंदा जले, पड़ोसियों ने पांच को बाहर निकाला

Jhansi
मकान में लगी भीषण आग, एक ही परिवार के चार लोग जिंदा जले, पड़ोसियों ने पांच को बाहर निकाला

झांसी। उत्तर प्रदेश के झांसी जिले के सीपरी बाजार थना क्षेत्र में एक मकान में आग लग गयी। देखते ही देखते आग ने पूरे मकान को अपनी चपेट में ले लिया। आग भीषण होते ही परिवार के लोग उसमें फंस गए, जिसके कारण चार लोगों की दर्दनाक मौत हो गयी। वहीं, पड़ोसियों ने पुलिस की मदद से पांच लोगों को सकुशल बाहर निकाल लिया। घटना सोमवार देर रात की है।

House Fire Traumatic Death Of Four People Of Same Family :

थाना सीपरी बाजार स्थित लहरकी देवी क्षेत्र में जगदीश उदैनियां परिवार के साथ रहते हैं। इनके परिवार में एक बेटा, एक बेटी, पत्नी और मां रहती हैं। बीती रात जगदीश अपनी मां, पत्नी, बेटी के सथ एक ही कमरे में सो रहे थे, जबकि दूसरा बेटा अपने परिवार के साथ उसी मकान की दूसरी मंजिल में रहता था।

देर रात अचानक घर में भीषण आग लग गई। देखते ही देखते आग ने पूरे घर को अपनी चपेट में ले लिया। चीख पुकार सुनकर पड़ोसियों ने फायर ब्रिगेड और पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पड़ोसियों ने घर में फंसे लोगों को बचाने का काम शुरू कर दिया। पड़ोसियों ने मिल कर दूसरी मंजिल में रहने वाले बेटे और पत्नी समेत उनके परिवार को बचा लिया।

उधर, मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड आग बुझाने में जुट गयी। वहीं, आग भीषण होने के कारण नीचे के कमरों में सो रहे जगदीश, पत्नी, बेटी और मां की झुलसकर मौत हो गई। पुलिस का कहना है कि शार्ट सर्किट से आग लगी है।

झांसी। उत्तर प्रदेश के झांसी जिले के सीपरी बाजार थना क्षेत्र में एक मकान में आग लग गयी। देखते ही देखते आग ने पूरे मकान को अपनी चपेट में ले लिया। आग भीषण होते ही परिवार के लोग उसमें फंस गए, जिसके कारण चार लोगों की दर्दनाक मौत हो गयी। वहीं, पड़ोसियों ने पुलिस की मदद से पांच लोगों को सकुशल बाहर निकाल लिया। घटना सोमवार देर रात की है। थाना सीपरी बाजार स्थित लहरकी देवी क्षेत्र में जगदीश उदैनियां परिवार के साथ रहते हैं। इनके परिवार में एक बेटा, एक बेटी, पत्नी और मां रहती हैं। बीती रात जगदीश अपनी मां, पत्नी, बेटी के सथ एक ही कमरे में सो रहे थे, जबकि दूसरा बेटा अपने परिवार के साथ उसी मकान की दूसरी मंजिल में रहता था। देर रात अचानक घर में भीषण आग लग गई। देखते ही देखते आग ने पूरे घर को अपनी चपेट में ले लिया। चीख पुकार सुनकर पड़ोसियों ने फायर ब्रिगेड और पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पड़ोसियों ने घर में फंसे लोगों को बचाने का काम शुरू कर दिया। पड़ोसियों ने मिल कर दूसरी मंजिल में रहने वाले बेटे और पत्नी समेत उनके परिवार को बचा लिया। उधर, मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड आग बुझाने में जुट गयी। वहीं, आग भीषण होने के कारण नीचे के कमरों में सो रहे जगदीश, पत्नी, बेटी और मां की झुलसकर मौत हो गई। पुलिस का कहना है कि शार्ट सर्किट से आग लगी है।