अचानक चलते-चलते कैसे खुल जाते हैं जूते के फीते, नहीं जानते होंगे असली कारण

shoe2

नई दिल्ली: अक्सर हम जब भी घर से निकलते वक्‍त हम सभी बहुत ही बारीकी और बेहतर तरीके से जूतों के फीते बांधकर निकलते हैं। लेकिन बहुत से लोग इस बात से परेशान हैं कि उनके जूतों के फीते अक्‍सर खुल जाते हैं। राह चलते, सीढ़‍ियां चढ़ते, ऑफिस में बैठे-बैठे भी कई बार फीते खुल जाते हैं। लेकिन क्‍या आपने कभी सोचा है कि ऐसा होता क्‍यों है?

How The Shoes Of The Shoe Are Opened Suddenly You Will Not Know The Real Reason :

रिसर्च में हुआ खुलासा:

कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में इसके ऊपर 17 पन्‍नों की एक रिसर्च रिपोर्ट है। क्रिस्टॉफर डेली-डायमंड, क्रिस्टीन ग्रेग और ऑलिवर ओरैली। ये तीन विज्ञानियों ने जूतों के खुलने के पीछे का मामला सुलझाया। रिपोर्ट के मुताबिक, दौड़ते या तेजी से चलते वक्‍त हमारा पैर जमीन से सात गुना ज्यादा गुरुत्व बल के संपर्क में आता है। क्रिया और प्रतिक्रिया के नियम के हिसाब से जमीन से भी उतना ही तेज बल वापस लौटता है। पैर की मांसपेशियां इसे बर्दाश्त कर लेती हैं, लेकिन फीते की गांठ ऐसे झटकों से ढीली पड़ने लगती हैं।

जमीन पर पैर पड़ते ही गांठ पर जोर पड़ता है और पैर के हवा में लौटने पर गांठ ढीली हो जाती है। दौड़ते या तेजी से चलते वक्‍त ऐसा बार-बार होता है, इसलिए फीते खुल जाते हैं। इन दिनों क्रॉस फीते भी आने लगे हैं, जो डीएनए की संरचना की तरह बांधे जाते हैं।

 

नई दिल्ली: अक्सर हम जब भी घर से निकलते वक्‍त हम सभी बहुत ही बारीकी और बेहतर तरीके से जूतों के फीते बांधकर निकलते हैं। लेकिन बहुत से लोग इस बात से परेशान हैं कि उनके जूतों के फीते अक्‍सर खुल जाते हैं। राह चलते, सीढ़‍ियां चढ़ते, ऑफिस में बैठे-बैठे भी कई बार फीते खुल जाते हैं। लेकिन क्‍या आपने कभी सोचा है कि ऐसा होता क्‍यों है? रिसर्च में हुआ खुलासा: कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में इसके ऊपर 17 पन्‍नों की एक रिसर्च रिपोर्ट है। क्रिस्टॉफर डेली-डायमंड, क्रिस्टीन ग्रेग और ऑलिवर ओरैली। ये तीन विज्ञानियों ने जूतों के खुलने के पीछे का मामला सुलझाया। रिपोर्ट के मुताबिक, दौड़ते या तेजी से चलते वक्‍त हमारा पैर जमीन से सात गुना ज्यादा गुरुत्व बल के संपर्क में आता है। क्रिया और प्रतिक्रिया के नियम के हिसाब से जमीन से भी उतना ही तेज बल वापस लौटता है। पैर की मांसपेशियां इसे बर्दाश्त कर लेती हैं, लेकिन फीते की गांठ ऐसे झटकों से ढीली पड़ने लगती हैं। जमीन पर पैर पड़ते ही गांठ पर जोर पड़ता है और पैर के हवा में लौटने पर गांठ ढीली हो जाती है। दौड़ते या तेजी से चलते वक्‍त ऐसा बार-बार होता है, इसलिए फीते खुल जाते हैं। इन दिनों क्रॉस फीते भी आने लगे हैं, जो डीएनए की संरचना की तरह बांधे जाते हैं।