एनआरएचएमऔर स्मारक के घोटालेबाजों के ठिकानों पर ईडी का छापा

लखनऊ: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अरबों रुपये के स्मारक घोटाले और एनआरएचएम घोटाले के आरोपितों पर गुरुवार को कार्रवाई तेज कर दी। ईडी ने स्मारक घोटाले में आरोपित राजकीय निर्माण निगम के प्रॉजेक्ट मैनेजर मुकेश कुमार, एक निजी फर्म और एनआरएचएम घोटाले के आरोपित पूर्व स्वास्थ्य महानिदेशक एसपी राम और सीएंडडीएस के पूर्व एमडी पीके भूकेश के घरों में तलाशी ली।




1400 करोड़ रुपये के स्मारक घोटाले में ईडी ने लखनऊ में गुरुवार को पहली बार कार्रवाई की। एक टीम ने राजकीय निर्माण निगम के प्रॉजेक्ट मैनेजर मुकेश कुमार के सेक्टर-जी, जानकीपुरम स्थित घर पर छापा मारा। दूसरा सर्च ऑपरेशन पारा रोड पर लक्ष्मण विहार में गायत्री ट्रेडर्स के मालिक देवेंद्र सिंह की दुकान और मकान में चलाया गया। दोनों ठिकानों से दोनों ठिकानों से बैंक व प्रॉपर्टी से जुड़े दस्तावेज व निवेश से जुड़े कागज मिले हैं। सूत्रों के अनुसार, इनमें से कौन-कौन सी संपत्तियां काली कमाई से जुटाई गई हैं, इसकी पुष्टि के बाद प्रॉपर्टी अटैच करने की कार्रवाई शुरू होगी।

ईडी ने एनआरएचएम घोटाले के दो आरोपितों के यहां भी गुरुवार को सर्च ऑपरेशन चलाया। एक टीम ने गोमतीनगर में 3/40, विनय खंड में पूर्व स्वास्थ्य महानिदेशक (परिवार कल्याण) एसपी राम के घर की तलाशी ली। दूसरी टीम ने सीएंडडीएस के पूर्व एमडी पीके भूकेश के न्यू हैदराबाद स्थित आवास पर छानबीन की। दोनों जगहों से मिले दस्तावेज, डायरी और बैंक खातों के कागजातों की जांच की जा रही है।




विदित हो कि राज्य सरकार ने स्मारक घोटाले की जांच विजिलेंस को सौंपी थी जिसके बाद तत्कालीन काबीना मंत्रियों बाबू सिंह कुशवाहा, नसीमुद्दीन सिद्दीकी के साथ निर्माण निगम के 19 इंजीनियरों के खिलाफ राजधानी के गोमतीनगर थाने में एफआईआर दर्ज करायी गयी थी। इसमें लखनऊ में स्मारकों का निर्माण कराने वाले प्रोजेक्ट मैनेजर मुकेश कुमार का नाम भी शामिल था।

Loading...