बाबरी मस्जिद
बाबरी मस्जिद थी, है और रहेगी, अदालत का फैसला पक्ष में आया तो फिर दोबार वहीं बनेगी: ओवैसी

राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद विवाद पर एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने फिर भड़काउ बयान दिया है। ओवैसी ने कहा है कि उन्हें पूरा भरोसा है कि अदालत का बयान आस्था के आधार पर नहीं बल्कि सुबुतों के आधार पर आएगा, जोकि बाबरी मस्जिद के पक्ष में होगा। मस्जिद की जगह को छोड़ा नहीं जाएगा। वहां बाबरी मस्जिद थी, है और रहेगी। उन्हें उम्मीद है कि अदालत का फैसला आने के बाद एकबार फिर मस्जिद उसी जगह बनेगी।

ओवैसी ने कहा कि जो लोग हमें डराने में लगे हैं, मस्जिद को हटाकर दूसरी जगह बनाने की बात कर रहे हैं, उन्हें मालूम होना चाहिए कि वे शरियत के खिलाफ बात कर रहे हैं। उन्हें समझ लेना चाहिए कि हम मस्जिद की जगह छोड़ने वाले नहीं हैं।वह अयोध्या में बाबरी मस्जिद के दावे को कभी नहीं छोड़ेंगे।

{ यह भी पढ़ें:- नीरव मोदी के खिलाफ जल्द जारी हो सकती है रेड कार्नर नोटिस }

इसके आगे उन्होंने पीएनबी महाघोटाले का जिक्र करते हुए कहा कि वह पीएम मोदी से पूछना चाहते हैं कि उनके और मेहुल चौकसी के बीच क्या संबन्ध है? उन्होंने कहा कि वे ऐसे लोगों से सवाल करना चाहते है जो मुसलमानो को पाकिस्तानी कहते हैं। वे लोग बताएं कि केतन मेहरा, मेहुल चौकसी और नीरव मोदी जैसे लोग क्या मुसलमान थे? पीएम मोदी जिन लोगों को भाई बोलते थे उन्होंने देश को लूटने का काम किया है।

इसके आगे उन्होंने कहा कि अगर हिन्दू मुस्लिम भाई के सिद्धांत की बात की जाए तो, इसने कभी हमारी मदद नहीं की। आज देश हिन्दुत्व की ओर बढ़ रहा है। मुस्लिमों को दूसरी श्रेणी का नागरिक बना दिया गया है। मुस्लिमों की भलाई के लिए कोई काम नहीं हो रहा।

{ यह भी पढ़ें:- HC ने नामंजूर किया मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस का फैसला सुनाने वाले जज का इस्तीफा  }