दिल्ली के प्राईवेट स्कूल में बरामद हुई सैकड़ों ई सिगरेट, सरकार लगा चुकी है प्रतिबन्ध

e cigarette
दिल्ली के प्राईवेट स्कूल में बरामद हुई सैकड़ों ई सिगरेट, सरकार लगा चुकी है प्रतिबन्ध

नई दिल्ली। दो दिन पहले ही केन्द्र सरकार ने देश में बिक रही ई सिगरेट पर पूरी तरह से प्रतिबन्ध लगा दिया था। यही नही सरकार ने ई सिगरेट बेंचे जाने व इसका सेवन करने पर एक लाख रुपये का जुर्माना या एक साल सजा का प्रावधान किया है। इसके बावजूद दिल्ली के एक चर्चित स्कूल में एक बच्चे की मां की शिकायत पर जब छापेमारी की गयी तो स्कूल के सीनियर छात्रों के पास से 150 ई सिगरेट बरामद हुंई।

Hundreds Of E Cigarettes Recovered In Private School In Delhi Government Has Imposed Ban :

दरअसल जिस प्राइवेट स्कूल में इै सिगरेट बरामद हुई हैं, वहां पर एक छात्र की मां ने स्कूल प्रशासन से शिकायत की थी। मां को अपने बेटे व उसके दोस्तों पर शक हुआ था कि ये लड़के स्कूल मे ही ई सिगरेट पीते हैं। शिकायत मिलते ही स्कूल के प्रिसिंपल ने 10वीं से 12वीं कक्षा में छात्रों की औचक चेकिंग करवाई। इस चेकिंग के दौरान छात्रों के पास से 150 ई सिगरेट बरामद हुई। जिन छात्रो के पास ई सिगरेट बरामद हुंई उनके परिजनो को सूचना दे दी गयी।

मयूर विहार के एक स्कूल में ई सिगरेट बरामद होने की जैसे ही अन्य स्कूलों को सूचना मिली, सभी स्कूलों की नींद उड़ गयी। अब सभी स्कूल ई सिगरेट के नशे को लेकर काफी चिंतित नजर आ रहे हैं। स्कूल छात्रों को नशे के खिलाफ जागरूक करने की योजना भी बना रहे हें। दरअसल छात्र इसलिए ई सिगरेट का ज्यादा प्रयोग करते हैं क्योकि इसमे कई तरह का फ्लेवर प्रयोग किया जाता है। ई सिगरेट पीने से बदबू भी नही आती जिसकी वजह से घर वाले कभी पकड़ नही पाते।

नई दिल्ली। दो दिन पहले ही केन्द्र सरकार ने देश में बिक रही ई सिगरेट पर पूरी तरह से प्रतिबन्ध लगा दिया था। यही नही सरकार ने ई सिगरेट बेंचे जाने व इसका सेवन करने पर एक लाख रुपये का जुर्माना या एक साल सजा का प्रावधान किया है। इसके बावजूद दिल्ली के एक चर्चित स्कूल में एक बच्चे की मां की शिकायत पर जब छापेमारी की गयी तो स्कूल के सीनियर छात्रों के पास से 150 ई सिगरेट बरामद हुंई। दरअसल जिस प्राइवेट स्कूल में इै सिगरेट बरामद हुई हैं, वहां पर एक छात्र की मां ने स्कूल प्रशासन से शिकायत की थी। मां को अपने बेटे व उसके दोस्तों पर शक हुआ था कि ये लड़के स्कूल मे ही ई सिगरेट पीते हैं। शिकायत मिलते ही स्कूल के प्रिसिंपल ने 10वीं से 12वीं कक्षा में छात्रों की औचक चेकिंग करवाई। इस चेकिंग के दौरान छात्रों के पास से 150 ई सिगरेट बरामद हुई। जिन छात्रो के पास ई सिगरेट बरामद हुंई उनके परिजनो को सूचना दे दी गयी। मयूर विहार के एक स्कूल में ई सिगरेट बरामद होने की जैसे ही अन्य स्कूलों को सूचना मिली, सभी स्कूलों की नींद उड़ गयी। अब सभी स्कूल ई सिगरेट के नशे को लेकर काफी चिंतित नजर आ रहे हैं। स्कूल छात्रों को नशे के खिलाफ जागरूक करने की योजना भी बना रहे हें। दरअसल छात्र इसलिए ई सिगरेट का ज्यादा प्रयोग करते हैं क्योकि इसमे कई तरह का फ्लेवर प्रयोग किया जाता है। ई सिगरेट पीने से बदबू भी नही आती जिसकी वजह से घर वाले कभी पकड़ नही पाते।