1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. 39 बीवियों का पति और 94 बच्चों का पिता का दुनिया से चल बसा, जानें इस परिवार के बारे में

39 बीवियों का पति और 94 बच्चों का पिता का दुनिया से चल बसा, जानें इस परिवार के बारे में

पूर्वोत्तर भारत के राज्य मिजोरम की राजधानी आइजोल में दुनिया में सबसे बड़े परिवार के मुखिया का रविवार के दिन निधन हो गया है। इनका परिवार दुनिया का सबसे बड़ा परिवार इसलिए माना जाता है, क्योंकि उसमें 166 लोग एक साथ रहते हैं। जानकारी के मुताबिक 76 साल के जियोंघाका उर्फ जियोन-आ कई दिनों से बीमार चल रहे थे,

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। पूर्वोत्तर भारत के राज्य मिजोरम की राजधानी आइजोल में दुनिया में सबसे बड़े परिवार के मुखिया का रविवार के दिन निधन हो गया है। इनका परिवार दुनिया का सबसे बड़ा परिवार इसलिए माना जाता है, क्योंकि उसमें 166 लोग एक साथ रहते हैं। जानकारी के मुताबिक 76 साल के जियोंघाका उर्फ जियोन-आ कई दिनों से बीमार चल रहे थे, जिसके चलते बक्तावंग गांव में उनके घर पर ही उनका इलाज चल रहा था, लेकिन हालत बिगड़ने पर उन्हें अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। जियोन के परिवार में उनकी 39 बीवियां, 94 बच्चे और 33 नाती-नातिन और पोते-पोतियां रहती हैं। वहीं अस्पताल के निदेशक डॉ. लालरिंटलुंगा जहाउ ने एक इंटरव्यू में बताया कि जियोन-आ काफी समय से मधुमेह और उच्च रक्तचाप से पीड़ित थे, जिसकी वजह से उनकी हालत बिगड़ी और उनकी मौत हो गई।

पढ़ें :- वो कार्टूनिस्ट जिसकी कलाकारी ने दुनिया में आग लगा दी थी, अलविदा कह दिया कलाकार ने सबको
Jai Ho India App Panchang

जानें कौन थे जियोन-आ ?

जानकारी के मुताबिक जियोन-आ छुआंथर संप्रदाय के नेता थे। इस संप्रदाय को उनके दादा खुआंगतुआहा ने साल 1942 में मावंगकावन गांव से निष्कासित होने के बाद स्थापित किया था। वहीं जियोन-आ के पिता का नाम चना था. जियोन-आ अपने पूरे परिवार के साथल बक्तावंग गांव में रह रहे थे। ये गांव मिजोरम की राजधानी आइजोल से 55 किलोमीटर दूर है।

मिजोरम के सीएम ने जियोन-आ के निधन पर जताया दुख

जियोन-आ के निधन की खबर इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब सुर्खियों में बनी हुई है। इसी के चलते मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरामथांगा, मिजोरम प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष लाल थनहावला, जोराम पीपुल्स मूवमेंट के नेता लालदुहोमा ने जियोन-आ के निधन पर शोक प्रकट किया है। मिजोरम के सीएम ने कहा कि मिजोरम और बक्तावंग तलंगनुम में उनका गांव पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बन गया है। ये इतने बड़े परिवार के कारण ही हुआ।

पढ़ें :- इंडस्ट्री ने खोया एक और सितारा, कार्डियक अरेस्ट से सुरेखा सीकरी (दादी सा) का निधन

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...