चोटी कटवा की दहशत: जब चोटी ही नहीं होगी..तो कटेगी कैसे, करवा दिया पत्नी का मुंडन

choti-katwa

Husband Saved The Head Wife Fearing Choti Katwa In Allahabad

इलाहाबाद। चोटी कटवा की दहशत में लोगों ने नये तरीके इजात करने शुरू कर दिये हैं। यूपी के इलाहाबाद में एक मामला चर्चा का विषय बना हुआ है। इलाहाबाद के बडोखर गांव में चोटी कटवा की दहशत के चलते पति ने अपनी पत्नी का सिर मुंडवा दिया। पति का तर्क है, जब चोटी ही नहीं होगी, तो कटेगी कैसे। ये मामला इलाके में आग की तरह फैल गया है।

बडोखर गांव का रहने वाला बिहारी लाल कई दिनों से चोटी कटवा के आतंक से दहशत में था। बिहारी लाल का कहना है, चोटी कटवा से घर के पांच बच्चों को नुकसान नहीं था क्योंकि उनकी चोटी नहीं है, लेकिन पत्नी सुम्मारी देवी (45) की चोटी कटने की आशंका के डर से पूरा घर सहमा हुआ था। पत्नी की रक्षा के लिये बिहारी लाल रातभर घर के दरवाजे पर पहरेदारी करता था।

इस समस्या को हल करने पर लिये उसने एक युक्ति निकाली और अपनी पत्नी का मुंडन करा दिया। अब बिहारी के इस कारनामे की चर्चा पूरे जिले में है। बिहारी का कहना है कि अगर चोटी कटती तो पत्नी बेहोश हो जाती, फिर इलाज में ढेरों रुपये लगते। मैं गरीब आदमी इलाज के लिये पैसा कहां से लाऊंगा। बस इसीलिए मैंने यह रास्ता निकाला। अब बाल ही नहीं तो चोटी कटेगी ही नहीं।

इस मामले की जानकारी मिलने के बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तो बिहारी लाल ने चोटी कटवा के आतंक की बात कही। अब यह मामला पूरे जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है, लेकिन समस्या यह है कि कहीं लोग इस उपाय को न अपनाने लगें।

 

इलाहाबाद। चोटी कटवा की दहशत में लोगों ने नये तरीके इजात करने शुरू कर दिये हैं। यूपी के इलाहाबाद में एक मामला चर्चा का विषय बना हुआ है। इलाहाबाद के बडोखर गांव में चोटी कटवा की दहशत के चलते पति ने अपनी पत्नी का सिर मुंडवा दिया। पति का तर्क है, जब चोटी ही नहीं होगी, तो कटेगी कैसे। ये मामला इलाके में आग की तरह फैल गया है। बडोखर गांव का रहने वाला बिहारी लाल कई दिनों से चोटी…