अब आप विधायक अमानतुल्ला खान ने मनोज तिवारी पर किया पलटवार

aap mla amantulla khan
अब आप विधायक अमानतुल्ला खान ने मनोज तिवारी पर किया पलटवार

नई दिल्ली। सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन बीजेपी सांसद को धक्का देने के मामले में अब आप विधायक अमानतुल्ला खान ने पलटवार ​किया है। खान ने खुद पर लग रहे सारे आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि जब मनोज तिवारी स्टेज के ऊपर चढ़ने की कोशिश कर रहे थे तो मैंने सिर्फ उन्हे रोंका था। धक्कर देने का आरोप पूरी तरह से निराधार है। उन्होने कहा कि अगर वो स्टेज पर चढ़ जाते तो वो सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के साथ बदसलूकी कर सकते थे।

I Did Not Attacked On Manoj Tiwari Says Aap Mla Amanatullah :

अमानतुल्ल खान के कहा कि मनोज तिवारी उस उद्घाटन समारोह के लिए आमंत्रित नहीं थे उसके बावजूद वो अपने सपोर्टर्स को लेकर वहां पहुंच गए थे। उन्होने वहां पोस्टर फाड़ने के साथ ही काले झंडे दिखाए। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मनोज तिवारी को उद्घाटन समारोह में आमंत्रित नहीं किया गया था। उसके बावजूद वो अपने सपोर्टर्स को लेकर वहां पहुंच गए। उन्हें वहां पोस्टर फाड़े, काले झंडे दिखाए और हमारे कार्यकर्ताओं पर हमला किया।

आप विधायक ने कहा कि जब अरविंद केजरीवाल वहां पहुंचे तो मनोज तिवारी स्टेज के पास आ गए। पुलिस ने भी उन्हें नहीं रोका। अमानतुल्ला ने कहा, ये एक स्वभाविक रिएक्शन था। इस पूरे मामले के बाद मनोज तिवारी ने आरोप लगाया कि उन्हें आप के एक विधायक ने गोली मारने की धमकी दी। उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ पुलिसकर्मियों ने भी उनके साथ गलत व्यवहार किया।

नई दिल्ली। सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन बीजेपी सांसद को धक्का देने के मामले में अब आप विधायक अमानतुल्ला खान ने पलटवार ​किया है। खान ने खुद पर लग रहे सारे आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि जब मनोज तिवारी स्टेज के ऊपर चढ़ने की कोशिश कर रहे थे तो मैंने सिर्फ उन्हे रोंका था। धक्कर देने का आरोप पूरी तरह से निराधार है। उन्होने कहा कि अगर वो स्टेज पर चढ़ जाते तो वो सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के साथ बदसलूकी कर सकते थे।अमानतुल्ल खान के कहा कि मनोज तिवारी उस उद्घाटन समारोह के लिए आमंत्रित नहीं थे उसके बावजूद वो अपने सपोर्टर्स को लेकर वहां पहुंच गए थे। उन्होने वहां पोस्टर फाड़ने के साथ ही काले झंडे दिखाए। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मनोज तिवारी को उद्घाटन समारोह में आमंत्रित नहीं किया गया था। उसके बावजूद वो अपने सपोर्टर्स को लेकर वहां पहुंच गए। उन्हें वहां पोस्टर फाड़े, काले झंडे दिखाए और हमारे कार्यकर्ताओं पर हमला किया।आप विधायक ने कहा कि जब अरविंद केजरीवाल वहां पहुंचे तो मनोज तिवारी स्टेज के पास आ गए। पुलिस ने भी उन्हें नहीं रोका। अमानतुल्ला ने कहा, ये एक स्वभाविक रिएक्शन था। इस पूरे मामले के बाद मनोज तिवारी ने आरोप लगाया कि उन्हें आप के एक विधायक ने गोली मारने की धमकी दी। उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ पुलिसकर्मियों ने भी उनके साथ गलत व्यवहार किया।