रूंधे गले से बोले दिग्विजय, मुझसे कहा गया था मध्य प्रदेश चुनाव से रहे दूर

digvijay singh
रूंधे गले से बोले दिग्विजय, मुझसे कहा गया था मध्य प्रदेश चुनाव से रहे दूर

भोपाल। मध्य प्रदेश में दो बार मुख्यमंत्री रहे वरिष्ठ कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह इस चुनावी अभियान से अलग रहे। वनवास खत्म करने और जीत की चाह रखने वाली कांग्रेस के चुनावी अभियान से दिग्विजय सिंह पूरी तरीके से दूर रहे। ऐसा क्यों हुआ अभी तक ये साफ नहीं था, मगर अब खुद उन्होंने इसका कारण बताया है।

I Was Asked Not To Interfere In Madhya Pradesh Election Says Digvijay Singh :

एक साक्षात्कार के दौरान 71 वर्षीय दिग्विजय सिंह ने कहा कि ‘मैंने खुद को अभियान से बाहर रखा क्योंकि मुझे मध्यप्रदेश में ज्यादा हस्तक्षेप नहीं करने के लिए कहा गया था। इसलिए मैं दो अभियानों में बाहर रहा. जो कुछ भी मैं कर सकता था, जो भी मुझे करने के लिए कहा गया था, मैंने किया।’

जब दिग्विजय सिंह से पूछा गया कि आखिर 15 सालों से कांग्रेस पार्टी सत्ता से बाहर क्यों है, इस पर उन्होने उन्होंने 60 लाख फर्जी वोटर का हवाला दिया। उन्होंने कहा कि पांच सालों में एक विपक्षी पार्टी के तौर पर कांग्रेस कोई ‘रीयल चुनौती’ नहीं दे सकी। फिर जब सवाल पूछा गआ कि आखिर ऐसा क्यों? तो उन्होंने कहा कि लोग अपने क्षेत्र में ज्यादा व्यस्त थे. मगर उन्होंने जोर देकर कहा कि इस बार आपको मैं आश्वस्त कर सकता हूं कि इस बार कांग्रेस जिस तरह से एकजुट थी, ऐसा मैंने इससे पहले कभी नहीं देखा. उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी के खिलाफ एक साथ मिलकर लड़ रहे हैं।

भोपाल। मध्य प्रदेश में दो बार मुख्यमंत्री रहे वरिष्ठ कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह इस चुनावी अभियान से अलग रहे। वनवास खत्म करने और जीत की चाह रखने वाली कांग्रेस के चुनावी अभियान से दिग्विजय सिंह पूरी तरीके से दूर रहे। ऐसा क्यों हुआ अभी तक ये साफ नहीं था, मगर अब खुद उन्होंने इसका कारण बताया है। एक साक्षात्कार के दौरान 71 वर्षीय दिग्विजय सिंह ने कहा कि 'मैंने खुद को अभियान से बाहर रखा क्योंकि मुझे मध्यप्रदेश में ज्यादा हस्तक्षेप नहीं करने के लिए कहा गया था। इसलिए मैं दो अभियानों में बाहर रहा. जो कुछ भी मैं कर सकता था, जो भी मुझे करने के लिए कहा गया था, मैंने किया।' जब दिग्विजय सिंह से पूछा गया कि आखिर 15 सालों से कांग्रेस पार्टी सत्ता से बाहर क्यों है, इस पर उन्होने उन्होंने 60 लाख फर्जी वोटर का हवाला दिया। उन्होंने कहा कि पांच सालों में एक विपक्षी पार्टी के तौर पर कांग्रेस कोई 'रीयल चुनौती' नहीं दे सकी। फिर जब सवाल पूछा गआ कि आखिर ऐसा क्यों? तो उन्होंने कहा कि लोग अपने क्षेत्र में ज्यादा व्यस्त थे. मगर उन्होंने जोर देकर कहा कि इस बार आपको मैं आश्वस्त कर सकता हूं कि इस बार कांग्रेस जिस तरह से एकजुट थी, ऐसा मैंने इससे पहले कभी नहीं देखा. उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी के खिलाफ एक साथ मिलकर लड़ रहे हैं।