मायावती और नसीमुद्दीन के खिलाफ लड़ूंगी चुनाव: स्वाति सिंह

हरदोई| बसपा प्रमुख मायावती के खिलाफ विवादित बयान देकर सुर्खियों में आए भाजपा से नेता दयाशंकर सिंह और उनकी पत्नी स्वाति सिंह ने हरदोई में एक प्रेस वार्ता के दौरान लोगों से बसपा का बहिष्कार करने की अपील की। स्वाति ने मायावती और बसपा के वरिष्ठ नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ चुनाव लड़ने की बात कही। सिंह दंपति ने कहा कि बसपा के खिलाफ जो भी पार्टी उन्हें बुलाएगी, वे उसका प्रचार करेंगे। स्वाति सिंह ने आम लोगों और सभी पार्टी के नेताओं को धन्यवाद दिया जो मुश्किल वक्त में उनके साथ खड़े रहे।




भाजपा नेता सुशील चंद्र त्रिवेदी के आवास पर आयोजित प्रेस वार्ता में स्वाति सिंह ने कहा कि मायावती सामान्य सीट से चुनाव लड़ें। वह उनके खिलाफ चुनाव लड़ेंगी। वह मायावती और नसीमुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी। अगर दोनों चुनाव नहीं लड़े तो वह बसपा के खिलाफ चुनाव प्रचार करने जाएंगी। इसके लिए उन्हें जो भी पार्टी प्रचार करने के लिए कहेगी, उसके साथ वह बसपा के खिलाफ प्रचार करने जाएंगी। स्वाति सिंह ने कहा, “मुझे इसका अंदाजा नहीं था की इतने लोग देश भर में मेरे साथ खड़े हो जाएंगे। लोगों को लग रहा था कि ऐसा उनके परिवार के साथ भी हो सकता है, इसलिए वे उनके साथ खड़े हुए।”

उन्होंने कहा, “लोगों के इस कर्ज को मैं कभी उतार नहीं पाऊंगी। जो लोग मेरे साथ उस समय खड़े थे, आज भी खड़े हैं। इसलिए मुझे जहां जहां बुलाया जा रहा है, मैं वहां जा रही हूं और लोगों को धन्यवाद देने जा रही हूं। साथ ही मैं ये बताना चाहती हूं कि जो न्याय की लड़ाई मैंने शुरू की थी, उसमें कोई कार्रवाई नहीं हुई है। मैं जनता के बीच में जाकर ये कहना चाहती हूं कि जो मेरे सवाल है वह सवाल आप बसपा के लोगों से करिए।” उन्होंने कहा, “मैं घरेलू महिला थी। मुझे बसपा खींच कर आगे लाई। अभद्र टिप्पणियां कीं। मैं सभी से कहती हूं की बसपा का बहिष्कार करें। ऐसी मानसिकता के लोग सरकार में आएंगे तो वह समाज के लिए खतरनाक ही होंगे।”