आईएएस नवनीत सहगल को आईं गंभीर चोटें, ड्राइवर की हालत नाजुक

लखनऊ। आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे पर शु्क्रवार को हुए सड़क हादसे का शिकार हुए सीएम अखिलेश यादव के करीबी आईएएस नवनीत सहगल की हालत गंभीर बताई जा रही है। ताजा जानकारी के मुताबिक नवनीत सहगल की दाहिनी जांघ की हड्डी टूटी है जबकि उनकी ​रीढ़ की हड्डी में भी फ्रैक्चर सामने आया है, फिलहाल वह ट्रामा सेन्टर के आईसीयू में भर्ती हैं। नवनीत सहगल के अलावा इस हादसे का शिकार हुए उनके सरकारी ड्राइवर रमा शंकर उर्फ पंडित की हालत भी गंभीर बताई जा रही है। जिस सघन चिकित्सा के लिए आईसीयू में वेल्टीनेटर पर रखा गया है। ऐसी खबरें भी मिल रहीं हैं कि शनिवार की सुबह 8 बजे नवनीत सहगल को एयर एंबुलेंस से गुरुग्राम के सुपर स्पेशयलिटी मेदांता अस्पताल रिफर किया जा सकता है।




मिली जानकारी के मुताबिक 21 नवंबर को होने वाले आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे के उद्धाटन की तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे नवनीत सहगल की गाड़ी लखनऊ वापस लौटते समय उन्नाव के हसनगंज में सामने से आ रही एक बेकाबू कार से टकरा गई थी। हादसा इतना गंभीर था कि सहगल की गाड़ी का अगला हिस्सा बुरी तरह से टूट गया। आनन फानन में हादसे का शिकार हुए सभी 5 लोगों को लखनऊ मेडिकल कालेज के ट्रामा सेन्टर में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। सीनियर डाक्टरों की टीमें लगातार सभी घायलों की निगरानी कर रहीं हैं। जहां पहुंच कर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के स्वयं पहुंच कर नवनीत सहगल समेंत सभी घायलों का हालचाल लिया। वहां पहुंचने वालों में राज्य सरकार के कई मंत्रियों के नाम भी शामिल है।




नवनीत सहगल का इलाज कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि उनके चहरे पर गंभीर चोटें हैं, जबकि उनकी रीढ़ की हड्डी और दाहिनी जांघ की हड्डी टूटी है। डाक्टरों का प्रयास है कि जल्द से जल्द हर संभव और बेहतर इलाज उन्हें मुहौया करवाया जा सके।




आपको बता दें कि यूपी में सीएम अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार के सबसे बड़े और अहम माने जाने वाले आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे प्रोजेक्ट का पूरा काम नवनीत सहगल की ही निगरानी में अंजाम दिया गया है। इसके साथ ही नवनीत सहगल यूपी सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग और संस्कृति विभाग के प्रमुख सचिव भी है। ऐसा कहा जा रहा है कि सहगल के चोटिल होने से 21 नवंबर को होने वाले एक्सप्रेस वे का लोकार्पण कार्यक्रम उस स्तर पर नहीं हो पाएगा जिसकी कल्पना की जा रही है। नवनीत सहगल यूपी के तेजतर्रार आईएएस अधिकारी माने जाते है।