IAS अनुराग तिवारी की मौत पर बड़ा खुलासा, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कर्नाटक कैडर के भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अधिकारी अनुराग तिवारी की मौत का रहस्य अब परत दर परत खुलता चला जा रहा है। अनुराग तिवारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि उनकी मौत की वजह हार्ट अटैक नहीं बल्कि उनकी हत्या हुई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में एंटी मार्टम इंजरी मिली है। मामले की जांच कर रही सीबीआई ने अब हत्या के कारणों की तफ़्तीश शुरू कर दी है। बता दें कि अनुराग के परिजन शुरू से ही हत्या की बात कर रहे थे।

बीती 17 मई को आईएएस अनुराग तिवारी की लाश संदिग्ध हालत में लखनऊ के मीराबाई मार्ग पर मिली थी। अनुराग वीआइपी गेस्ट हाउस में ठहरे हुए थे। तकरीबन दस साल के करियर में अनुराग का 7-8 बार तबादला किया गया था। अनुराग के परिजनों को राज्य पुलिस की जांच पर विश्वास नहीं था, जिसके चलते सीबीआई जांच की मांग उठी थी।

{ यह भी पढ़ें:- ब्राइटलैंड स्कूल केस: मासूम की निशानदेही पर छात्रा से हुई पूछताछ, KGMU पहुंचे सीएम योगी }

मौत से पहले अनुराग तिवारी वीआइपी गेस्ट हाउस के कमरा नंबर 19 में ठहरे थे। ये कमरा एलडीए वीसी प्रभु नारायण सिंह के नाम बुक था। दोनों अधिकारी कमरा नंबर 19 में ही ठहरे थे। सुबह तड़के अनुराग की लाश बीच सड़क पड़ी मिली थी।

अनुराग के पिता बीएन तिवारी ने मौत के बाद बताया था कि उनका बेटा बहुत ही ईमानदार अधिकारी था, जिसके चलते उनके सीनियर जलन रखते थे इसलिए शक की सुई इस बात की ओर इशारा करती है कि अनुराग की मौत नेचुरल नहीं है। रिपोर्ट आने के बाद इस बात की पुष्टि भी हो गयी है कि अनुराग की मौत हार्ट अटैक नही बल्कि उनकी हत्या की गयी थी।

{ यह भी पढ़ें:- लखनऊ: बंद कमरे में मृत मिले चार मजदूर, जांच में जुटी पुलिस }

Loading...