ICC ने किया सावधान, क्रीज मत छोड़ना वरना धोनी नहीं छोड़ेगा

dhoni
ICC ने किया सावधान, क्रीज मत छोड़ना वरना धोनी नहीं छोड़ेगा

नई दिल्ली। भारतीय विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी की विकेट का पीछे रफ्तार हर किसी ने देखी है। बल्लेबाज को पलक झपकते ही स्टंप करने में धोनी माहिर हैं।

Icc Warns Batsman To Remain In Crease When Ms Dhoni Is Wicket Keeping :

दरअसल, ‘सावधान! विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धोनी हैं, क्रीज न छोड़ें’। ऐसा किसी और ने नहीं, ICC (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) ने आगाह किया है। आईसीसी ने वनडे वर्ल्ड कप से पहले दुनिया के सभी क्रिकेटर्स को नसीहत देते हुए अपने ट्विटर हैंडल पर यह संदेश छोड़ा है।

न्यूजीलैंड की पारी के 37वें ओवर में जेम्स नीशान (32 गेंदों में 44 रन) केदार जाधव की गेंद पर स्वीप शॉट खेलने गए लेकिन गेंद को मिस कर बैठे। गेंद नीशाम के पैड्स से टकराकर विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धौनी के पास गई और उन्होंने पगबाधा की अपील की।

भारतीय खिलाड़ी एलबीडब्ल्यू की अपील कर रहे थे और जेम्स नीशाम की निगाहें भी अंपायर की तरफ थी। इस बीच नीशाम यह भूल बैठे थे कि वह शॉर्ट खेलने के चक्कर में क्रीज से बाहर निकल गए और फिर अंदर क्रीज में नहीं लौटे। लेकिन धौनी विकेटों के पीछे पूरी तरह मुस्तैट खड़े थे उन्होंने अपील करते करते ही गेंद उठाई और नीशम को रन आउट कर पवेलियन भेज दिया।

आईसीसी ने महेंद्र सिंह धौनी की इस शानदार सूझबूझ की प्रशंसा अपने अनोखे अंदाज में की है। दरअसल, योको नाम के एक जापानी मल्टीमीडिया आर्टिस्ट ने ट्विटर पर कुछ ऐसी सलाह मांगी, जिससे वह उसका जीवन सुरक्षित और खुशनुमा बना रहे। योको के इस ट्वीट पर आईसीसी ने जवाब दिया। आईसीसी ने योको को सलाह दी और कहा, ‘तब अपना क्रीज छोड़कर बाहर बिल्कुल मत खड़े हों, जब महेंद्र सिंह धौनी स्टंप के पीछे खड़े हों।’ आईसीसी के इस ट्वीट को क्रिकेट प्रेमी खूब पसंद कर रहे हैं।

नई दिल्ली। भारतीय विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी की विकेट का पीछे रफ्तार हर किसी ने देखी है। बल्लेबाज को पलक झपकते ही स्टंप करने में धोनी माहिर हैं।दरअसल, 'सावधान! विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धोनी हैं, क्रीज न छोड़ें'। ऐसा किसी और ने नहीं, ICC (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) ने आगाह किया है। आईसीसी ने वनडे वर्ल्ड कप से पहले दुनिया के सभी क्रिकेटर्स को नसीहत देते हुए अपने ट्विटर हैंडल पर यह संदेश छोड़ा है।न्यूजीलैंड की पारी के 37वें ओवर में जेम्स नीशान (32 गेंदों में 44 रन) केदार जाधव की गेंद पर स्वीप शॉट खेलने गए लेकिन गेंद को मिस कर बैठे। गेंद नीशाम के पैड्स से टकराकर विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धौनी के पास गई और उन्होंने पगबाधा की अपील की। भारतीय खिलाड़ी एलबीडब्ल्यू की अपील कर रहे थे और जेम्स नीशाम की निगाहें भी अंपायर की तरफ थी। इस बीच नीशाम यह भूल बैठे थे कि वह शॉर्ट खेलने के चक्कर में क्रीज से बाहर निकल गए और फिर अंदर क्रीज में नहीं लौटे। लेकिन धौनी विकेटों के पीछे पूरी तरह मुस्तैट खड़े थे उन्होंने अपील करते करते ही गेंद उठाई और नीशम को रन आउट कर पवेलियन भेज दिया। आईसीसी ने महेंद्र सिंह धौनी की इस शानदार सूझबूझ की प्रशंसा अपने अनोखे अंदाज में की है। दरअसल, योको नाम के एक जापानी मल्टीमीडिया आर्टिस्ट ने ट्विटर पर कुछ ऐसी सलाह मांगी, जिससे वह उसका जीवन सुरक्षित और खुशनुमा बना रहे। योको के इस ट्वीट पर आईसीसी ने जवाब दिया। आईसीसी ने योको को सलाह दी और कहा, 'तब अपना क्रीज छोड़कर बाहर बिल्कुल मत खड़े हों, जब महेंद्र सिंह धौनी स्टंप के पीछे खड़े हों।' आईसीसी के इस ट्वीट को क्रिकेट प्रेमी खूब पसंद कर रहे हैं।