WC 2019: सचिन-लारा के क्लब में शामिल होंगे क्रिस गेल, साथ ही बनेंगे ‘सिक्सर किंग’

gayle
WC 2019: सचिन-लारा के क्लब में शामिल होंगे क्रिस गेल, साथ ही बनेंगे ‘सिक्सर किंग’

नई दिल्ली। वेस्टइंडीज के धाकड़ बल्लेबाज क्रिस गेल ब्रिटेन में 30 मई से शुरू होने वाले विश्व कप (ICC World Cup 2019)में उतरने के साथ ही पांच या इससे अधिक बार इस क्रिकेट महाकुंभ में शामिल होने वाले क्रिकेटरों के विशिष्ट क्लब में शामिल होने वाले दुनिया 19वें खिलाड़ी बन जाएंगे।

Icc World Cup 2019 Chris Gayle Will Be Joining Sachin Tendulkar And Brian Lara Club :

भारतीय दिग्गज सचिन तेंदुलकर और पाकिस्तान के जावेद मियांदाद सर्वाधिक 6-6 विश्वकप में खेले हैं, लेकिन 16 ऐसे खिलाड़ी हैं जो पांच विश्व कप में खेले हैं। इनमें ब्रायन लारा, इमरान खान, अर्जुन राणातुंगा, मुथैया मुरलीधरन, वसीम अकरम, रिकी पोंटिंग, जैक कैलिस आदि शामिल हैं। गेल अब लारा और शिवनारायण चंद्रपाल के बाद इस सूची में शामिल होने वाले तीसरे कैरेबियाई खिलाड़ी बनेंगे।

39 वर्षीय क्रिस गेल अब ब्रायन लारा और शिवनारायण चंद्रपॉल के बाद इस सूची में शामिल होने वाले तीसरे कैरेबियाई खिलाड़ी बनेंगे। क्रिस गेल बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं और वेस्टइंडीज के लिए ओपनिंग करते हैं।

ओवरऑल वनडे इंटरनेशनल में प्रदर्शन – क्रिस गेल ने वेस्टइंडीज के लिए अब तक 288 वनडे मैचों में 38.02 की औसत से 10151 रन बनाए हैं, जिसमें 1 दोहरा शतक, 25 शतक और 51 अर्धशतक शामिल हैं। इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर 215 रन रहा. वनडे में क्रिस गेल के नाम 165 विकेट हैं और उनका बेस्ट प्रदर्शन 46 रन देकर 5 विकेट रहा है।

वर्ल्ड कप- गेल अब तक 2003, 2007, 2011 और 2015 वर्ल्ड कप में खेल चुके हैं जिसमें उन्होंने 26 मैचों में 37.37 की औसत से 944 रन बनाए हैं। उनके नाम पर 215 रन की एक पारी भी शामिल है। ‘यूनिवर्स बॉस’ क्रिकेट महाकुंभ में अब तक 37 छक्के लगाए हैं और वह दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स के साथ संयुक्त रूप से शीर्ष पर हैं। इसका मतलब है कि टूर्नामेंट में पहला छक्का लगाते ही वह वर्ल्ड कप के ‘सिक्सर किंग’ बन जाएंगे।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सफर- क्रिस गेल ने 11 सितंबर 1999 को पहला अंतरराष्ट्रीय मैच भारत के खिलाफ खेला था। मौजूदा वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में भाग ले रहे खिलाड़ियों में केवल दो खिलाड़ी ही ऐसे हैं जिन्होंने पिछली सदी में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था। इनमें गेल के अलावा पाकिस्तान के शोएब मलिक शामिल हैं। मलिक ने अपना पहला वनडे मैच 14 अक्टूबर 1999 को खेला था। मलिक हालांकि इससे पहले केवल 2007 वर्ल्ड कप में ही पाकिस्तानी टीम का हिस्सा थे।

गेल को वर्ल्ड कप में 1000 रन पूरे करने के लिए केवल 56 रन की जरूरत है। अब तक केवल 17 बल्लेबाज ही 1000 से अधिक रन बना पाए हैं जिनमें तेंदुलकर 2278 रन के साथ शीर्ष पर काबिज हैं। वेस्टइंडीज की तरफ से लारा (1225) और विव रिचर्ड्स (1013) ही इस मुकाम पर पहुंचे हैं।

नई दिल्ली। वेस्टइंडीज के धाकड़ बल्लेबाज क्रिस गेल ब्रिटेन में 30 मई से शुरू होने वाले विश्व कप (ICC World Cup 2019)में उतरने के साथ ही पांच या इससे अधिक बार इस क्रिकेट महाकुंभ में शामिल होने वाले क्रिकेटरों के विशिष्ट क्लब में शामिल होने वाले दुनिया 19वें खिलाड़ी बन जाएंगे। भारतीय दिग्गज सचिन तेंदुलकर और पाकिस्तान के जावेद मियांदाद सर्वाधिक 6-6 विश्वकप में खेले हैं, लेकिन 16 ऐसे खिलाड़ी हैं जो पांच विश्व कप में खेले हैं। इनमें ब्रायन लारा, इमरान खान, अर्जुन राणातुंगा, मुथैया मुरलीधरन, वसीम अकरम, रिकी पोंटिंग, जैक कैलिस आदि शामिल हैं। गेल अब लारा और शिवनारायण चंद्रपाल के बाद इस सूची में शामिल होने वाले तीसरे कैरेबियाई खिलाड़ी बनेंगे। 39 वर्षीय क्रिस गेल अब ब्रायन लारा और शिवनारायण चंद्रपॉल के बाद इस सूची में शामिल होने वाले तीसरे कैरेबियाई खिलाड़ी बनेंगे। क्रिस गेल बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं और वेस्टइंडीज के लिए ओपनिंग करते हैं। ओवरऑल वनडे इंटरनेशनल में प्रदर्शन - क्रिस गेल ने वेस्टइंडीज के लिए अब तक 288 वनडे मैचों में 38.02 की औसत से 10151 रन बनाए हैं, जिसमें 1 दोहरा शतक, 25 शतक और 51 अर्धशतक शामिल हैं। इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर 215 रन रहा. वनडे में क्रिस गेल के नाम 165 विकेट हैं और उनका बेस्ट प्रदर्शन 46 रन देकर 5 विकेट रहा है। वर्ल्ड कप- गेल अब तक 2003, 2007, 2011 और 2015 वर्ल्ड कप में खेल चुके हैं जिसमें उन्होंने 26 मैचों में 37.37 की औसत से 944 रन बनाए हैं। उनके नाम पर 215 रन की एक पारी भी शामिल है। ‘यूनिवर्स बॉस’ क्रिकेट महाकुंभ में अब तक 37 छक्के लगाए हैं और वह दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स के साथ संयुक्त रूप से शीर्ष पर हैं। इसका मतलब है कि टूर्नामेंट में पहला छक्का लगाते ही वह वर्ल्ड कप के ‘सिक्सर किंग’ बन जाएंगे। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सफर- क्रिस गेल ने 11 सितंबर 1999 को पहला अंतरराष्ट्रीय मैच भारत के खिलाफ खेला था। मौजूदा वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में भाग ले रहे खिलाड़ियों में केवल दो खिलाड़ी ही ऐसे हैं जिन्होंने पिछली सदी में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था। इनमें गेल के अलावा पाकिस्तान के शोएब मलिक शामिल हैं। मलिक ने अपना पहला वनडे मैच 14 अक्टूबर 1999 को खेला था। मलिक हालांकि इससे पहले केवल 2007 वर्ल्ड कप में ही पाकिस्तानी टीम का हिस्सा थे। गेल को वर्ल्ड कप में 1000 रन पूरे करने के लिए केवल 56 रन की जरूरत है। अब तक केवल 17 बल्लेबाज ही 1000 से अधिक रन बना पाए हैं जिनमें तेंदुलकर 2278 रन के साथ शीर्ष पर काबिज हैं। वेस्टइंडीज की तरफ से लारा (1225) और विव रिचर्ड्स (1013) ही इस मुकाम पर पहुंचे हैं।