1. हिन्दी समाचार
  2. ICICI बैंक ने पूर्व CEO चंदा कोचर दोषी करार, सूद समेत लौटानी पड़ेगी बोनस की रकम

ICICI बैंक ने पूर्व CEO चंदा कोचर दोषी करार, सूद समेत लौटानी पड़ेगी बोनस की रकम

Icici Bank Former Ceo Chanda Kochhar Of Violation Of Banks Code Of Conduct

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। वीडियोकॉन लोन मामले में आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व सीईओ चंदा कोचर को जस्टिस बी एन श्रीकृष्णा समिति ने बैंक के आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया है। जस्टिस बी.एन. श्रीकृष्णा समिति की ने अपनी जांच में पाया कि वीडियोकोन को कर्ज देने के मामले में कोचर ने बैंक की आचार संहिता का उल्लंघन किया है। कोचर की स्वीकृति पर इस कर्ज का कुछ हिस्सा उनके पति दीपक की मालिकाना हक वाली कंपनी को दिया गया।

पढ़ें :- सीरम इंस्टीट्यूट में आग लगने से पांच लोगों की मौत, कोविड वैक्सीन सुरक्षित

बैंक ने कहा कि चंदा कोचर आईसीआईसीआई के नियमों और कार्यशैली का उल्लंघन कर रही थीं। बोर्ड डायरेक्टर्स ने फैसला लिया है कि आंतरिक पॉलिसी के तहत चंदा के बैंक से अलग होने को कारण विशेष के लिए उनका निष्कासन माना जाएगा। उन्हें फायदों का भुगतान नहीं किया जाएगा, जिसमें बोनस भी शामिल है।

पिछले साल दिया था इस्तीफा

चंदा कोचर ने आईसीआईसीआई बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ के पद से अक्टूबर 2018 में इस्तीफा दे दिया था। कोचर ने बोर्ड से अपील की थी कि उन्हें जल्द रिटायरमेंट दे दिया जाए, जिसे मंजूर कर लिया गया था।

वीडियोकॉन लोन मामले में चंदा पर आरोप

पढ़ें :- दारोगा ने दो सिपाहियों के साथ मिलकर व्यापारियों से की थी लूट

एक अखबार ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि आईसीआईसीआई बैंक ने वीडियोकॉन ग्रुप को 3250 करोड़ रुपए का लोन दिया था। इसका 86% हिस्सा ही चुकाया गया। बाद में वीडियोकॉन की मदद से बनी एक कंपनी चंदा कोचर के पति दीपक कोचर की अगुआई वाले ट्रस्ट के नाम कर दी गई। चंदा कोचर पर वीडियोकॉन के मालिक वेणुगोपाल धूत के जरिए अपने पति दीपक कोचर, भाभी और ससुर को लाभ पहुंचाने का आरोप लगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...