1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. ICMR ने राहुल गांधी के कोरोना की कम टेस्टिंग वाले बयान को बताया गलत

ICMR ने राहुल गांधी के कोरोना की कम टेस्टिंग वाले बयान को बताया गलत

नई दिल्ली। कल कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना को लेकर प्रेस वार्ता की थी और इस दौरान कोरोना की कम टेस्टिंग होने की बात कही थी। संक्रमित मरीजों की जांच के लिए कम परीक्षण किए जाने की इस दलील को भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने आंकड़ों के आधार पर गलत बताया है। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी द्वारा भारत में कम परीक्षण किए जाने के आरोप के जवाब में आईसीएमआर के वरिष्ठ वैज्ञानिक रमन आर गंगाखेड़कर कहा कि कोरोना परीक्षण की नीति को जनसंख्या के आधार पर देखना समझदारी नहीं है। उन्होंने कहा कि इसे दूसरे नजरिये से समझना होगा।

आईसीएमआर ने दावा किया कि देश में 24 नमूनों की जांच में एक व्यक्ति में संक्रमण की पुष्टि हो रही है। जबकि जापान में 11.7, इटली में 6.7, अमेरिका में 5.3, ब्रिटेन में 3.4 नमूनों की जांच पर एक व्यक्ति पॉजीटिव निकल रहा है। इसलिए जो लोग ज्यादा जांच की बात कह रहे हैं, उन्हें समझना चाहिए कि देश में प्रति संक्रमित व्यक्ति पर ज्यादा जांचें हो रही हैं।

गंगाखेड़कर ने कहा कि अमेरिका, इटली, ब्रिटेन और जापान जैसे देशों की तुलना में कोरोना मरीजों की पहचान के लिये भारत में न सिर्फ ज्यादा परीक्षण हो रहे हैं, बल्कि तार्किक और विवेकपूर्ण तरीके से भारत में परीक्षण किए जा रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...