दुस्साहस : अलर्ट के एक दिन बाद ही पुलवामा में IED ब्लास्ट ब्लास्ट, फायरिंग जारी

pulwama attack
दुस्साहस: अलर्ट के एक दिन बाद ही पुलवामा में IED ब्लास्ट, फायरिंग जारी, मेजर शहीद

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में फिर से आतंकी हमला हुआ है। यहां आर्मी के 44 राष्ट्रीय राइफल्स को निशाना बनाते हुए आतंकियों ने IED ब्लास्ट किया है। बताया जा रहा है कि आतंकियों ने पुलवामा के अरिहल गांव में अरिहल-लस्सीपुरा रोड पर घटना अंजाम दी है। फिलहाल वहां सेना और आतंकियों के बीच गोलीबारी जारी है। ये हमला तब हुआ जब सेना की बख्तरबंद गाड़ी यहां से गुजर रही थी।​ फिलहाल इस हमले में तीन जवानों के घायल होने की खबरे आ रही हैं।

Ied Blast Blasts In Pulwama One Day After Alert :

बता दें एक दिन पहले ही जम्मू और कश्मीर में IED हमला होने की धमकी दी गई थी। जिसके बाद यहां सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत कर दिया गया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान ने पुलवामा में हमले की धमकी की जानकारी भारत और अमेरिका से साझा की है। बताया जा रहा है कि जाकिर मूसा की मौत का बदला लेने के लिए काफी दिनों से हमले की धमकियां दी जा रही थी। जिसके बाद जम्मू और कश्मीर पुलिस के जवान विशेष रूप से राजमार्ग पर कड़ी निगरानी रख रहे हैं।

बता दें कि पाकिस्तान ने बताया था कि साउथ कश्मीर में आतंकी हमला हो सकता है। जिसके बाद सेना के साथ ही जम्मू—कश्मीर पुलिस भी अलर्ट हो गई थी। गौरतलब हो कि 14 फरवरी को ही कार सुसाइड बम के जरिए पुलिस में धमाका किया था, जिसमें पचास के करीब सीआरपीएफ के जवान शहीद हो गए थे।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में फिर से आतंकी हमला हुआ है। यहां आर्मी के 44 राष्ट्रीय राइफल्स को निशाना बनाते हुए आतंकियों ने IED ब्लास्ट किया है। बताया जा रहा है कि आतंकियों ने पुलवामा के अरिहल गांव में अरिहल-लस्सीपुरा रोड पर घटना अंजाम दी है। फिलहाल वहां सेना और आतंकियों के बीच गोलीबारी जारी है। ये हमला तब हुआ जब सेना की बख्तरबंद गाड़ी यहां से गुजर रही थी।​ फिलहाल इस हमले में तीन जवानों के घायल होने की खबरे आ रही हैं। बता दें एक दिन पहले ही जम्मू और कश्मीर में IED हमला होने की धमकी दी गई थी। जिसके बाद यहां सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत कर दिया गया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान ने पुलवामा में हमले की धमकी की जानकारी भारत और अमेरिका से साझा की है। बताया जा रहा है कि जाकिर मूसा की मौत का बदला लेने के लिए काफी दिनों से हमले की धमकियां दी जा रही थी। जिसके बाद जम्मू और कश्मीर पुलिस के जवान विशेष रूप से राजमार्ग पर कड़ी निगरानी रख रहे हैं। बता दें कि पाकिस्तान ने बताया था कि साउथ कश्मीर में आतंकी हमला हो सकता है। जिसके बाद सेना के साथ ही जम्मू—कश्मीर पुलिस भी अलर्ट हो गई थी। गौरतलब हो कि 14 फरवरी को ही कार सुसाइड बम के जरिए पुलिस में धमाका किया था, जिसमें पचास के करीब सीआरपीएफ के जवान शहीद हो गए थे।