अमेरिका व्यापारिक युद्ध शुरू करता है तो उसे इसका नतीजा भुगतना होगा : चीन

अमेरिका व्यापारिक युद्ध शुरू करता है तो उसे इसका नतीजा भुगतना होगा : चीन
अमेरिका व्यापारिक युद्ध शुरू करता है तो उसे इसका नतीजा भुगतना होगा : चीन

नई दिल्ली। चीन ने रविवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर वाशिंगटन व्यापारिक युद्ध शुरू करता है तो उसे इसका नतीजा भुगतना होगा। चीन की नेशनल पीपुल्स कांग्रेस के प्रवक्ता जेंग येस्यूई ने एक प्रेस वार्ता में कहा, “चीन, अमेरिका के साथ ट्रेड वॉर नहीं चाहता है, लेकिन अपने हितों को नुकसान पहुंचाने वाले कदम पर चीन चुप नहीं बैठेगा और आवश्यक कदम उठाएगा।”

If America Starts A Trade War Then It Will Have To Bear Its Consequence China :

सूत्रों के मुताबिक, जेंग ने वाशिंगटन को चेतावनी देते हुए कहा कि गलत फैसलों और गलत धारणा पर आधारित नीतियां संबंधों को नुकसान पहुंचाएंगी और इसके ऐसे परिणाम होंगे, जिसे दोनों ही पक्ष देखना नहीं चाहेंगे।

चीन की यह प्रतिक्रिया गुरुवार को ट्रंप की घोषणा के बाद आई है। ट्रंप ने घोषणा की थी कि उनका प्रशासन स्टील के आयात पर 25 फीसदी और एल्यूमिनियम उत्पादों पर 10 फीसदी कर लगाएगा। साथ ही उन्होंने व्यापार युद्ध को ‘सही’ करार दिया था।

जेंग ने कहा कि 2017 में दो आर्थिक शक्तियों के बीच का कुल व्यापार 580 अरब डॉलर पहुंच गया, इसलिए यह स्वाभाविक है कि कुछ टकराव हो।

हालांकि, उन्होंने जोर देकर कहा कि सहयोग ही इन मतभेदों को दूर करने का एकमात्र रास्ता है। उन्होंने चीन के शीर्ष आर्थिक सलाहकार लियु ही के इस सप्ताह वाशिंगटन के होने वाले दौरे का उदाहरण दिया। लियु अमेरिका के सरकारी अधिकारियों के साथ बैठकें करेंगे।

नई दिल्ली। चीन ने रविवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर वाशिंगटन व्यापारिक युद्ध शुरू करता है तो उसे इसका नतीजा भुगतना होगा। चीन की नेशनल पीपुल्स कांग्रेस के प्रवक्ता जेंग येस्यूई ने एक प्रेस वार्ता में कहा, "चीन, अमेरिका के साथ ट्रेड वॉर नहीं चाहता है, लेकिन अपने हितों को नुकसान पहुंचाने वाले कदम पर चीन चुप नहीं बैठेगा और आवश्यक कदम उठाएगा।"सूत्रों के मुताबिक, जेंग ने वाशिंगटन को चेतावनी देते हुए कहा कि गलत फैसलों और गलत धारणा पर आधारित नीतियां संबंधों को नुकसान पहुंचाएंगी और इसके ऐसे परिणाम होंगे, जिसे दोनों ही पक्ष देखना नहीं चाहेंगे।चीन की यह प्रतिक्रिया गुरुवार को ट्रंप की घोषणा के बाद आई है। ट्रंप ने घोषणा की थी कि उनका प्रशासन स्टील के आयात पर 25 फीसदी और एल्यूमिनियम उत्पादों पर 10 फीसदी कर लगाएगा। साथ ही उन्होंने व्यापार युद्ध को 'सही' करार दिया था।जेंग ने कहा कि 2017 में दो आर्थिक शक्तियों के बीच का कुल व्यापार 580 अरब डॉलर पहुंच गया, इसलिए यह स्वाभाविक है कि कुछ टकराव हो।हालांकि, उन्होंने जोर देकर कहा कि सहयोग ही इन मतभेदों को दूर करने का एकमात्र रास्ता है। उन्होंने चीन के शीर्ष आर्थिक सलाहकार लियु ही के इस सप्ताह वाशिंगटन के होने वाले दौरे का उदाहरण दिया। लियु अमेरिका के सरकारी अधिकारियों के साथ बैठकें करेंगे।